वृंदावन में यमुना में डूबे युवक का नहीं चला पता:आक्रोशित ग्रामीणों ने नगर निगम चौराहा किया जाम, कड़ी मशक्कत के बाद सीओ के आश्वासन पर मानें

वृंदावन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मथुरा के वृंदावन में यमुना नदी में नहाते समय डूबे युवक का 24 घंटे बाद भी पता नहीं चल सका। परिजनों ने पुलिस की अनदेखी से आक्रोशित होकर बीती शाम जमकर हंगामा किया। परिजनों सहित ग्रामीण सड़क पर उतर आए और नगर निगम चौराहे पर जाम लगा दिया। सूचना पर सीओ सदर प्रवीण कुमार मलिक मौके पर पहुंचे। उन्होंने परिजनों को समझाकर जाम खुलवाया।

ग्रामीण और परिजन सड़क पर उतर चौराहा जाम कर दिया

वृंदावन तहसील क्षेत्र के रंगजी का नगला निवासी गोपाल का बेटा कन्हैया (22) 14 अगस्त की दोपहर अपने दो मित्रों के साथ यमुना में नहाने आया था। यहां वह ब्रह्मर्षि देवरहा बाबा घाट पर नहा रहा था। पानी में बहाव तेज होने से वह बह गया। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मदद से कई घंटे यमुना में युवक की तलाश की लेकिन पता नहीं लग सका।

इसके बाद अंधेरा होने पर पुलिस और गोताखोर वापस चले गए। परिजनों ने दूसरे दिन पुनः तलाश किए जाने की आशा के साथ अपने घर वापस लौट गए। परन्तु दूसरे दिन पुलिस ने युवक की तलाश के लिए कोई प्रयास नहीं किए। इससे परिजनों में दुख के साथ आक्रोश व्याप्त हो गया। इसके बाद ग्रामीण और परिजन सड़क पर उतर आए और चौराहा जाम कर दिया।

कोतवाली में हंगामा शुरू कर दिया

सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने उन्हें बलपूर्वक वहां से हटाया। यहां से उठकर सभी लोग कोतवाली पहुंच गए और हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस ने आक्रोशित ग्रामीणों को आधा घंटे में रेस्क्यू टीम द्वारा युवक की तलाश शुरू कराने का आश्वासन दिया। इसके बाद वह शांत हुए।

आधा घंटे में कोई कार्रवाई न होता देख ग्रामीणों ने एक बार फिर उग्र होकर नगर निगम चौराहे पर जाम लगा दिया। सूचना पर सीओ प्रवीण कुमार मलिक ने मौके पर पहुंचकर लोगो को समझा-बुझाकर जाम खुलवाया। युवक की तलाश का आश्वासन दिया। इसके बाद वह माने और रास्ता खाली किया।

खबरें और भी हैं...