ग्राम प्रधानों ने मझवारा चौकी प्रभारी के खिलाफ खोला मोर्चा:प्रधान के साथ पुलिस की नोकझोंक और बदसलूकी को लेकर की बैठक

घोसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घोसी में ग्राम प्रधानों ने चौकी इंचार्ज पर कार्रवाई की मांग को लेकर बैठक की। - Dainik Bhaskar
घोसी में ग्राम प्रधानों ने चौकी इंचार्ज पर कार्रवाई की मांग को लेकर बैठक की।

घोसी ब्लाक सभागार में प्रधान संघ की बैठक का आयोजन किया गया। सोमवार को मझवारा चौकी इंचार्ज द्वारा ग्राम प्रधान के साथ हुई नोकझोंक और बदसलूकी का मामला छाया रहा। बैठक में सभी ग्राम प्रधानों ने सर्वसम्मति से चौकी इंचार्ज के इस कृत्य की निंदा की। बैठक के बाद प्रधान संघ के एक प्रतिनिधिमंडल ने ब्लाक अध्यक्ष राजेश कुमार के नेतृत्व में क्षेत्राधिकारी कार्यालय घोसी पहुंचकर एक ज्ञापन क्षेत्राधिकारी उमाशंकर उत्तम की अनुपस्थिति में उनके पेशकार मोहम्मद नसीम फारुकी को सौंपा।

प्रधान संघ ने मझवारा चौकी इंचार्ज के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर उचित कार्रवाई करने की मांग की है। साथ ही साथ प्रधान संघ ने न्याय न मिलने पर धरना प्रदर्शन करने की भी चेतावनी दी है। बता दें कि घोसी कोतवाली अन्तर्गत मझवारा ग्राम सभा स्थित हरिजन बस्ती के पास ग्रामसभा चकमार्ग संख्या का पूर्व में सीमांकन कराकर चकमार्ग का निर्माण कराया जा रहा था। उक्त चकमार्ग का निर्माण कार्य लगभग पूरा हो चुका था। सोमवार की सुबह जैसे ही मनरेगा मजदूर उक्त चकमार्ग के बचे हुए कार्य को पूरा करने के लिये मौके पर पहुंचे एक पक्ष ने मझवारा पुलिस चौकी पर प्रार्थना पत्र देकर कार्य को रोकने की मांग की।

घोसी में प्रधान के साथ दुर्व्यवहार का आरोप लगाकर ग्राम प्रधानों ने बैठक का आयोजन किया।
घोसी में प्रधान के साथ दुर्व्यवहार का आरोप लगाकर ग्राम प्रधानों ने बैठक का आयोजन किया।

पुलिस और प्रधान के बीच देर तक हुई नोकझोंक
इसके बाद मझवारा चौकी की पुलिस पहुंची लेकिन ग्राम प्रधान सत्येंद्र कुमार ने कार्य बंद कराने से इंकार कर दिया। सिपाहियों की सूचना पर मझवारा चौकी प्रभारी सविन्द्र राय भी मौके पर पहुंचे। मौके पर पहुंची पुलिस और ग्राम प्रधान सत्येंद्र कुमार के बीच काफी देर तक तीखी नोकझोंक के बाद काम बंद हो गया। ग्राम प्रधान सत्येंद्र कुमार का आरोप है कि पुलिस ने उनके साथ अभद्रता की। घटना के बाद मनरेगा मजदूर और ग्रामीण उग्र हो गये और सैकडो़ं की संख्या में पुलिस चौकी पर पहुंचकर अदरी मधुबन शहीद-मार्ग को जाम कर दिया।

घोसी में प्रधान संघ ने चौरी इंचार्ज के खिलाफ कार्रवाई को लेकर ज्ञापन सौंपा।
घोसी में प्रधान संघ ने चौरी इंचार्ज के खिलाफ कार्रवाई को लेकर ज्ञापन सौंपा।

पुलिस के दुर्व्यवहार से प्रधान संघ आक्रोशित
जाम की सूचना पर लगभग आधे घंटे बाद पहुंचे कोतवाली प्रभारी नागेश उपाध्याय ने लोगों को समझा बुझाकर चक्का जाम समाप्त कराया। भारी पुलिस बल की मौजूदगी में राजस्व निरीक्षक जितेन्द्र राम, लेखपाल चन्द्रमा यादव, शरद यादव और अमित कुमार सिंह ने पैमाइश कर मामले का मौके पर निस्तारण किया। लेकिन अपने साथी ग्राम प्रधान के साथ हुए इस पुलिसिया दुर्व्यवहार को लेकर ग्राम प्रधान संघ काफी आक्रोशित हो गया और आनन फानन में घोसी ब्लाक सभागार में एक बैठक आयोजित की गई।

सीओ ने प्रकरण की जांच कर कार्रवाई का भरोसा दिया
पुलिस की इस कार्य प्रणाली की निंदा करते हुए क्षेत्राधिकारी घोसी से मझवारा चौकी इंचार्ज सविन्द्र राय के विरुद्ध मुकदमा कर कार्रवाई करने की मांग की है। साथ ही साथ कार्रवाई न होने की दशा में आंदोलन करने की भी चेतावनी दी है। इस सम्बंध में क्षेत्राधिकारी उमाशंकर उत्तम ने दूरभाष पर बताया कि वो अभी बाहर हैं और आने के बाद इस प्रकरण की जांच कर न्यायोचित कार्रवाई करेंगें। इस अवसर पर प्रधान संघ के ब्लाक अध्यक्ष राजेश कुमार, उपाध्यक्ष रामाश्रय भारद्वाज, उपेन्द्र यादव, महामंत्री विधिचन्द चौहान, मुन्ना गुप्ता, कोषाध्यक्ष प्रवीण कुमार उर्फ डब्लू राजभर, सचिव राम आसरे सहित ब्लाक क्षेत्र के दर्जनों ग्राम प्रधान मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...