मधुबन... ट्राई साइकिल पाकर खिले दिव्यांगों के चेहरे:जिला प्रतिरक्षण अधिकारी के हाथों हुआ 5 दिव्यांगों के बीच ट्राई साइकिल का वितरण

मधुबन3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्राकृतिक अभिशाप को झेलते हुए समाज में भी उपेक्षा का दंश झेलने को विवश दिव्यांग लोगों को हम सबके सहारे की जरूरत है क्योंकि यह भी हमारे समाज का ही एक अंग हैं। ऐसे दिव्यांगों के लिए समाजसेवी कमालुद्दीन उस्मानी मसीहा साबित हो रहें है ।

उक्त बातें जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. बीके यादव ने रविवार की शाम मधुबन तहसील क्षेत्र के मर्यादपुर में समाज सेवी कमलूद्दीन उस्मानी द्वारा 100 दिव्यांगो को ट्राई साइकिल देने के लक्ष्य के सापेक्ष 5 दिव्यांगों को ट्राई साइकिल वितरण कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कही।

उन्होंने आगे कहा कि समाज के अंधी दौड़ में दिव्यांगों के लिए कोई सोचने वाला नहीं है । हर व्यक्ति अपने विकास की चिन्ता लिए आगे बढ़ रहा है । ऐसे में समाजसेवी द्वारा अपने पैसे से 100 आवास के लक्ष्य पुर्ण करने के बाद अब ट्राई साइकिल वितरण किया जा रहा है, यह प्रसंसनीय है ।

दिव्यांग को ट्राई साइकिल बांटते प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. बीके यादव
दिव्यांग को ट्राई साइकिल बांटते प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. बीके यादव

ट्राई साइकिल पाने वालों में दोनों पैरों से दिव्यांग उपेंद्र कुमार, शहाना खातून, उमेश, बृजेश एंव कुमार सामिल रहे। ट्राई साइकिल पाकर इन दिव्यांगों के चेहरे की खुशी देखने लायक थी और सभी समाज सेवी कमालुद्दीन उस्मानी को दिल की गहराइयों से धन्यवाद दे रहे थे।

इस अवसर पवन कुमार पाण्डेय, राधेश्याम यादव, रूस्तम उस्मानी, डॉ.तौसीफ़ अहमद, श्वेतांक वर्मा, धनंजय पाण्डेय आदि उपस्थित रहे ।

समाज सेवा के क्षेत्र में मधुबन तहसील क्षेत्र में कमालुद्दीन उस्मानी एक चर्चित नाम है। इससे पहले वह अब तक तहसील क्षेत्र के 100 बेघर परिवारों को पक्की छत दे चुके हैं। अपनी इसी समाज सेवा के मिशन के तहत अब उन्होंने 100 दिव्यांगों के बीच ट्राई साइकिल वितरण का लक्ष्य रखा है।

खबरें और भी हैं...