• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Mau
  • Discussions Started With Mukhtar Ansari's Post In Mau, Posted As Soon As The Code Of Conduct Came Into Force, Called The Yogi Government On Facebook As Anti farmer And Anti youth

मऊ में मुख्तार अंसारी के पोस्ट से चर्चाएं शुरू:आचार संहिता लागू होते ही किया पोस्ट, फेसबुक पर योगी सरकार को किसान और नौजवान विरोधी बताया

मऊ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्तार अंसारी के पोस्ट को लेकर सियासी चर्चाएं शुरू। - Dainik Bhaskar
मुख्तार अंसारी के पोस्ट को लेकर सियासी चर्चाएं शुरू।

उत्तरप्रदेश में विधानसभा चुनाव की घोषणा होते ही बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी का फेसबुक अकाउंट से एक पोस्ट वायरल हो गया। आचार संहिता लागू होते ही सियासी गलियारों में चर्चाएं तेज हो गई हैं। दरअसल, इन दिनों मऊ सदर विधानसभा के विधायक मुख्तार अंसारी जेल में बंद हैं। हालांकि, दैनिक भास्कर इस पोस्ट की पुष्टि नहीं करता है।

किसान और नौजवान विरोधी सरकार बताया
मुख्तार अंसारी के हवाले से फेसबुक पर पोस्ट किया गया कि आज चुनाव की तारीखों की ऐलान के साथ संविधान विरोधी, किसान विरोधी, नौजवान विरोधी और जनता विरोधी वर्तमान सरकार के खात्मे का ऐलान हो गया है। आचार संहिता लागू होते ही मुख्तार अंसारी की पोस्ट की टाइमिंग पर भी सियासी गलियारों में चर्चाएं तेज हो गई हैं।

योगी सरकार की कार्रवाई जारी
गौरतलब है कि सीएम योगी आदित्यनाथ कई बार अपने भाषणों में बाहुबलियों को साफ संदेश दे चुके थे। यही नहीं, बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबियों पर भी कार्रवाई हो रही है। मुख्‍तार अंसारी गैंग पर योगी सरकार लगातार कार्रवाई कर रही है। मऊ में मुख्तार के सहयोगी भू-माफिया गणेश मिश्रा समेत अन्य लोगों की करीब 75 करोड़ रुपये की 19 बीघा जमीन पर हुई अवैध प्लाटिंग को ध्वस्त कर दिया गया।

मुख्‍तार पर दर्ज हैं 52 केस
मुख्‍तार अंसारी के खिलाफ 52 मुकदमे दर्ज हैं। इनमें से 15 ट्रायल स्टेज पर हैं। मुख्‍तार को यूपी पुलिस पंजाब की रोपड़ जेल से वापस ले आई थी। वह बांदा जेल में बंद है। अंसारी पर भाजपा विधायक कृष्णानंद राय की कराने का भी आरोप था। लेकिन गवाहों के मुकर जाने के चलते वह बरी हो गया था।