कोरोना संक्रमण में मेरठ मंडल टॉप पर:मेरठ, गाजियाबाद और नोएडा में 24 घंटे में 1383 केस मिले, दिल्ली के पास तेजी से फैल रहा कोरोना

मेरठ/गाजियाबाद7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

कोरोना संक्रमण ने पिछले 24 घंटे मेरठ मंडल को टॉप पर ला दिया है। प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के तमाम दावे यहां कमजोर पड़ने लगे हैं। बृहस्पतिवार को प्रदेश की जो रिपोर्ट जारी की गई है उसमें यूपी में पिछले 24 घंटे में 3121 केस मिले हैं।

मेरठ मंडल के मेरठ, गाजियाबाद और नोएडा में ही 1383 केस हैं। नोएडा में 600 केस मिले हैं, मेरठ में 401 केस और गाजियाबाद में 382 केस मिले हैं। मेरठ में बुधवार को 92 केस मिले थे और एक कारोबारी की मौत हुई थी। मगर, अकेले मेरठ में 24 घंटे में करीब साढ़े चार गुना केस मिले हैं।

प्रदेश में 3121 व तीन जिलों में 1383

सीएमओ डॉक्टर अखिलेश मोहन ने बताया की मेरठ में लगातार लोगों को जागरूक किया जा रहा है की सोशल डिस्टेंस का पालन करें। मास्क लगाएं। उसके बाद भी भीड़भाड़ वाले इलाकों में लोग जाने से नहीं मान रहे हैं। मेरठ में छात्र, इंजीनियर, डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ भी कोरोना की चपेट में आने लगा है।

उत्तर प्रदेश में 24 घंटे में 3121 केस मिले हैं। मेरठ, गाजियाबाद, नोएडा में 1383 केस मिले हैं। प्रदेश के 45 प्रतिशत केस अकेले मेरठ मंडल के तीन जिलों से हैं।

दिल्ली के नजदीक के जिलों में हाल भयावह

दिल्ली के नजदीक के जिलों में लगातार कोरोना तेजी से बढ़ रहा है। एनसीआर के मेरठ, नोएडा, गाजियाबाद के ढाई लाख लोग प्रतिदिन दिल्ली आते जाते हैं। इनमें अधिकांश वह लोग हैं, जो दिल्ली में जॉब करते हैं। दिल्ली के कारण ही इन तीन जिलों में कोरोना तेजी से बढ़ रहा है। नोएडा में कुल एक्टिव केस 1706 पहुंच गए हैं। गाजियाबाद में सक्रिय केस 1180 पहुंच गए हैं। वहीं, मेरठ में एक्टिव केस की संख्या 798 पहुंच गई है।

खबरें और भी हैं...