बेहतर काम से होगी अलग पहचान:मेरठ में पासिंग आउट परेड के बाद 294 कांस्टेबल पुलिस बेड़े में शामिल, ADG बोले- कोरोना से बचाव भी महत्वपूर्ण

मेरठ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मेरठ में 6 महीने की ट्रेनिंग करने वाले 294 रंगरूट परेड के बाद यूपी  पुलिस के बेड़े में शामिल हो गए। एक जवान को सम्मानित करते एडीजी राजीव सभरवाल। - Dainik Bhaskar
मेरठ में 6 महीने की ट्रेनिंग करने वाले 294 रंगरूट परेड के बाद यूपी  पुलिस के बेड़े में शामिल हो गए। एक जवान को सम्मानित करते एडीजी राजीव सभरवाल।

मेरठ पुलिस लाइन में गुरुवार को पासिंग आउट परेड का आयोजन किया गया। 6 महीने की ट्रेनिंग करने वाले 294 रंगरूट परेड के बाद यूपी पुलिस के बेड़े में शामिल हो गए। बारिश के बावजूद मैदान को रंग-बिरंगे झंडों से सजाया गया था। पासिंग आउट परेड में मुख्य अतिथि मेरठ जोन के अपर पुलिस महानिदेशक राजीव सभरवाल रहे।

पुलिस में बेहतर काम करें : ADG
मेरठ जोन के एडीजी राजीव सभरवाल ने जवानों को संबोधित करते हुए कहा की यूपी पुलिस संख्या बल में बहुत आगे है। चुनाव नजदीक हैं और सभी जवानों के सामने ड्यूटी की भी परीक्षा शुरू हो रही है। एक तरफ कंधों पर नई जिम्मेदारी का भार दूसरी तरफ कोरोना संक्रमण से भी बचाव करें।

पासिंग आउट परेड के दौरान रंगरूट।
पासिंग आउट परेड के दौरान रंगरूट।

हर जवान यह जिम्मेदारी ले कि डयूटी के समय और पुलिस विभाग में अपनी शानदार पहचान बनाने का अवसर मिला है। सराहनीय कार्य करें, हमेशा सफलता मिलेगी। ईमानदारी, निष्पक्षता, आचरण व कर्तव्य निष्ठा के प्रति काम कर आगे बढ़ें। जनता से ऐसा व्यवहार करें जिससे जनता में विश्वास बने और पुलिस की छवि में चार चांद लग सकें।

चुनौतियों से पीछे न हटें
आईजी रेंज प्रवीण कुमार त्रिपाठी ने कहा की हर जवान का दायित्व है की वह चुनौती से पीछे न हटें। हर रोज नई जिम्मेदारी मिलती है तो उस पर पूरा खरा उतरने का प्रयास करें। एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने कहा कि पुलिस विभाग में जनता की सेवा करने की जिम्मेदारी ली तो ईमानदारी से करें। विभाग की छवि हर जवान पर टिकी होती है। पहचान एक दिन में नहीं बनती उसके लिए लंबा समय देकर मेहनत करनी पड़ती है। लेकिन छोटी सी चूक कभी कभी भारी पड़ जाती है।

28 जून से शुरू हुई थी ट्रेनिंग

पुरस्कार पाने वाले जवान को सम्मानित करते एडीजी।
पुरस्कार पाने वाले जवान को सम्मानित करते एडीजी।

आरटीसी मेजर राकेश कुमार ने बताया की 29 जून 2021 को 299 रंगरूटों का पुलिस लाइन में आगमन किया गया। 2 रंगरूट 15 दिन से अधिक के लिए गैरहाजिर रहे, उनकी वापसी नियुक्ति जनपद के लिए की गई। कुल मिलाकर 294 जवान पासिंग आउट परेड में शामिल हुए।

एडीजी, आईजी, एसएसपी के साथ जवान।
एडीजी, आईजी, एसएसपी के साथ जवान।

रुपेश कुमार, सुमित प्रभाकर, अतुल चौधरी, नीरज कुमार, शिवम राठी, दीपक कुमार, योगेश कुमार, हेमंत कुमार को बेहतर कार्य के लिए एडीजी राजीव सभरवाल द्वारा सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में एसपी देहात केशव कुमार, एसपी सिटी विनीत भटनागर, एसपी क्राइम अनित कुमार, एसपी ट्रैफिक जितेंद्र श्रीवास्तव, एएसपी सूरज राय, आरआई महेंद्र सिंह रावत व अन्य रहे।

खबरें और भी हैं...