चुनाव आते ही कार्यकर्ताओं की पूछ बढ़ी:मेरठ में डिप्टी CM केशव की अफसरों को खरी-खरी, कहा- अधिकारी इनकी बातों को न टालें, जब वो कुछ कहें तो ये समझे ये मेरा ही आदेश है

मेरठ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मेरठ में लोकार्पण, शिलान्यास समारोह में बोलते यूपी के डिप्टी सीएम केशवप्रसाद मौर्य - Dainik Bhaskar
मेरठ में लोकार्पण, शिलान्यास समारोह में बोलते यूपी के डिप्टी सीएम केशवप्रसाद मौर्य

मेरठ पहुंचे उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने रविवार को अफसरों को खरी खरी सुनाते हुए कहा कि जब कोई कार्यकर्ता उनसे कोई बात कहे तो वो उसे मेरा आदेश समझकर उसको पूरा करें। मौर्य ने इस मौके पर कांग्रेस और सपा पर भी जमकर निशाना साधा। केशव ने तंज कसते हुए कहा कि विपक्षी नेता केवल सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं। भाजपा जमीन पर काम करती है। प्रियंका ट्विटर वाड्रा हो गई हैं औ अखिलेश ट्विटर यादव।

मौर्य यहां PWD की विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास के लोकार्पण समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा विरोधी केवल बयानवीर हैं, टिवट्र छाप राजनीति करते हैं। वो पसीना नहीं बहाते। इतना बड़ा कोविड का संकट आया आप सबने परिश्रम किया, मगर ये लोग कभी जनता की सेवा के लिए कहीं नहीं दिखे। विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग झूठ बोलने की ऑटोमेटिक मशीन है। मौर्य ने यहां सर छोटूराम और धन सिंह कोतवाल के नाम पर मार्ग बनवाने की भी घोषणा की। साथ ही कहा कि हर महापुरुष के नाम पर उस जिले में यूपी सरकार मार्ग बनाएगी।

2022 में 325 से ज्यादा सीटें लाएंगी

उत्तरप्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने 2022 के विधानसभा चुनाव में 325 से ज्यादा सीटें लाने का दावा किया है। उन्होंने कहा कि सारे विरोधी एक भी हो जाएंगे तब भी हम कमल खिलाकर ही रहेंगे। मौर्य ने कहा कि पंचायत से लेकर संसद तक भाजपा की ही सरकार होगी। हम 2022 भी जीतेंगे 2024 भी जीतेंगे।

अखिलेश और मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि वे किसानों के नाम पर राजनीति करना बंद करें। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव और मायावती 2022 में सरकार बनाने का मुंगेरीलाल का सपने देख रहे हैं। केशव प्रसाद मौर्य वेस्ट यूपी के 6 जिलों की 120.034 करोड़ की 380 परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास करने मेरठ पहुंचे।

60 प्रतिशत हमारा, 40 प्रतिशत में भी बंटवारा

डिप्टी सीएम ने भरी सभा में अफसरों को साफ कहा कि भाजपा कर्ता, नेता, जनप्रतिनिधि अगर किसी बात को कहे तो उसे माने। भाजपा के जनप्रतिनिधि की बात को डिप्टी सीएम की बात समझें। उस काम को करें। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में यूपी में गुंडागर्दी, भ्रष्टाचार और अपराध का बोलबाला था, लेकिन योगी सरकार ने इस गुंडागर्दी पर चोट दी है।

माैर्य ने कहा कि हम विकास की बात करते है और वो जाति की बात करते हैं। रघुवंशी से लेकर यदुवंशी सब हमारे साथ हैं, क्योंकि हमारी सरकार बिना भेदभाव विकास करती है और वे बेमतलब के विषयों पर बात करते हैं। मौर्य ने कहा 100 में से 60 फीसद मतदाता हमारा है जो 40 फीसद है उसमें भी बंटवारा है। उसमें भी 20 फीसद हमारा है। औवेसी से लेकर कोई भी यूपी आ जाए, बीजेपी के आगे नहीं चलेगा।

15 साल में सपा, बसपा के काम नहीं दिखे मगर 52 सप्ताह का हमारा काम दिखता है

मौर्य ने कहा कि आजादी के बाद बहुत सरकारें आई और गईं, लेकिन हमारी सरकार ने जो काम किए वह किसी ने नहीं किए। योगी सरकार ने विकास किया है। 15 साल में सपा बसपा कार्यकाल के काम नहीं दिखेंगे, लेकिन 52 सप्ताह का काम नजर आ रहा है। आज क्रांतिधरा पर योजनाओं का लोकार्पण कर रहा हूं, यह मेरे लिए गर्व की बात है।

आज छह जिलों के लिए 201 परियोजनाओं का लोकापर्ण 377 करोड़ 64 लाख, 179 परियोजनाओं का शिलान्यास 822 करोड़ 80 लाख रुपये की सौगात दी रहे हैं, लेकिन यह शुरुआत है, अभी बहुत कुछ करना बाकी है। हम कांवड़ पथ को चौधरी चरण सिंह के नाम से बना रहे। धन सिंह कोतवाल के नाम से एक मार्ग बनेगा, सर छोटू राम के नाम से मार्ग बनेगा।

यूपी का आम है जाम नहीं जो अच्छा न लगे

मौर्स ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि राहुल कहते हैं कि मुझे यूपी का आम अच्छा नहीं लगता, मैं उनसे कहूंगा कि प्रदेश का अपमान मत करो।हम किसानों के हित में काम कर रहे हैं, आप इतिहास देख लीजिए, किसी सरकार ने किसाानों के लिए इतना काम नहीं किया जितना हमने किया। किसान हमारे साथ है इसीलिए सपा-बसपा-रालोद एक होने के बाद भी वर्ष 2019 में बीजेपी जीत गई। अखिलेश यादव गुंडे माफियाओं के दम पर नही रोक पाएंगे। हम 2022 भी और 2024 में भी जीतेंगे।

120 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास
डिप्टी सीएम ने मेरठ में कल 120.034 करोड़ की 380 परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया। ये परियोजनाएं सेतु निगम व लोक निर्माण विभाग दोनों की हैं। इन परियोजनाओं में कांवड़ नहर पटरी मार्ग भी प्रमुख प्रोजेक्ट है। सेतु निगम की 27 परियोजनाएं हैं। मेरठ, गाजियाबाद, हापुड़, शामली, बुलंदशहर, गौतमबुदध़नगर के प्रोजेक्ट का शुभारंभ होना है। मेरठ जिले में 51, बागपत 57, गाजियाबाद में 33, हापुड़ की 17, गौतमबुदधनगर की 59, बुलंदशहर की 132 परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण हुआ।

खबरें और भी हैं...