UP में जहरीली शराब ने ली जान:बुलंदशहर में शराब पीने से 5 की मौत; 6 की हालत नाजुक; आबकारी विभाग के 2 अधिकारी हटाए गए

बुलंदशहरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अपनों को खोने का दुख मनाते परिजन। कई लोगों को गंभीर हालत में अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। - Dainik Bhaskar
अपनों को खोने का दुख मनाते परिजन। कई लोगों को गंभीर हालत में अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में जहरीली शराब पीने से 5 लोगों की मौत हो गई। बीमार पड़े 16 लोगों को इलाज के लिए अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। इनमें 6 की हालत गंभीर है। जानकारी के मुताबिक, मामला सिकंदराबाद थाना क्षेत्र के जीत गढ़ी गांव का है। इस इलाके में बड़ी मात्रा में अवैध शराब की बिक्री होती है।

बताया जा रहा है कि गांव के कुछ लोगों ने गुरुवार को शराब पी थी, जिससे उनकी हालत बिगड़ गई। इलाज के लिए इन्हें जिले के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल लाने के बाद डॉक्टरों की टीम ने 5 को मृत घोषित कर दिया। इस मामले में यूपी सरकार ने आबकारी विभाग के अफसरों और कर्मचारियों पर कार्रवाई की है।

मुख्य आरोपी कुलदीप गिरफ्तार हुआ

इस मामले के मुख्य आरोपी कुलदीप को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है। वह शराब माफिया है। उसे पकड़ने के लिए 4 टीमें लगाई गई थी। पुलिस उसके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट और एनएसए के तहत कार्रवाई की तैयारी कर रही है।

ग्रामीणों का आरोप- पुलिस की साठगांठ से बिक रही थी शराब
इस बीच गांव वालों ने आरोप लगाया है कि शराब माफिया और आबकारी विभाग की साठगांठ से जहरीली शराब बेची जा रही थी। पुलिस ने फिलहाल तीन लोगों को हिरासत में लिया है। गांव में SDM और बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स भेजा गया है। इधर, बुलंदशहर के SP संतोष कुमार ने लापरवाही के आरोप में थाना प्रभारी समेत 3 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है।

आबकारी विभाग के अफसर हटाए गए
सरकार ने जॉइंट एक्साइज कमिश्नर राजेश मणि त्रिपाठी और डिप्टी एक्साइज कमिश्नर सुरेश चंद्र पटेल को हटा दिया है। दोनों अफसरों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के भी निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा जिला आबकारी अधिकारी संजय कुमार त्रिपाठी भी हटाए गए हैं। आबकारी इंस्पेक्टर प्रभात वर्धन, सिपाही रामबाबू , सिपाही श्रीकांत सॉन्ग और सलीम अहमद को सस्पेंड किया गया है।

आरोपी की गिरफ्तारी के लिए जुटीं 5 टीमें
मैनपुरी में आबकारी मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री ने कहा कि बुलंदशहर में जो घटना हुई है, वह दुखद है। मंत्री ने कहा कि इंस्पेक्टर और बीट के सिपाही निलंबित कर दिए गए हैं। मामले में मजिस्ट्रेट जांच कराई जा रही है और जो भी दोषी पाए जाएंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।