ओमिक्रॉन के डर से बढ़ी लोगों की वतन वापसी:मेरठ में 5 दिन में 670 यात्री विदेश से लौटे घर, सैपिलंग, वैक्सीनेशन में लगाया निजी अस्पतालों का स्टाफ

मेरठएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

यूरोप में ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे को देखते हुए मेरठ में लोग वतन वापसी कर रहे है। पिछले 5 दिनों में मेरठ में 670 नागरिक विदेश से लौटे हैं। इसमें 7 नागरिक ऐसे हैं जो दक्षिण अफ्रीका से भी आए हैं। लगातार विदेश से लौटे यात्रियों की बढ़ती संख्या के देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ी है। निजी अस्पतालों के स्टाफ को भी टेस्टिंग के लिए लगाया गया है।

मेरठ बस अड्‌डे पर आने वाले यात्रियों की हो रही सैंपलिंग
मेरठ बस अड्‌डे पर आने वाले यात्रियों की हो रही सैंपलिंग

बस अड़्डों, रेलवे स्टेशनों पर टेस्टिंग बढ़ाई गई है। वैक्सीनेशन की रफ्तार में इजाफा किया गया है।

36 टीमों को दी जांच की जिम्मेदारी
मेरठ में विदेश से लौटे 670 लोगों में अधिकांश यात्री यूके से होने के कारण खतरे की संभावना ज्यादा जताई जा रही है। प्रशासन स्तर पर डॉक्टरों की 36 टीमों को बनाकर जिले में टेस्टिंग के लिए उतारा गया है। जो अस्पतालों से मरीजों का रिकार्ड ले रही हैं, साथ ही सैंपलिंग डेटा भी जमा कर रही है। मंडलीय सविर्लांस अधिकारी डॉ. अशोक तालियान के अनुसार अगर किसी भी मरीज में कोरोना संक्रमण मिलता है तो उसका सैंपल जीनोम सीक्वेसिंग के लिए भेजा जाएगा।

बस अड्‌डों और रेलवे स्टेशनों पर की जा रही सैंपलिंग
बस अड्‌डों और रेलवे स्टेशनों पर की जा रही सैंपलिंग

12 देशों को 'एट रिस्क' वाले देशों में रखा
केंद्र सरकार ने 12 देशों की लिस्ट तैयार की है, जहां नए वैरिएंट का खतरा अधिक है। इनमें यूके समेत यूरोप के सभी देश, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, हॉन्गकॉन्ग और इजराइल शामिल हैं।

यात्रियों के लिए लागू गाइडलाइन्स की मुख्य बातें
. 'एट रिस्क' यानी खतरे की श्रेणी में रखे गए देशों से आने वाले यात्रियों को एयरपोर्ट पर टेस्ट कराना होगा।
. बाहर जाने वाले यात्रियों को 72 घंटे पहले किए गए टेस्ट की RT-PCR रिपोर्ट देना जरूरी होगा।
. पॉजिटिव पाए जाने वाले यात्रियों को आइसोलेट किया जाएगा, सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग होगी।
. निगेटिव पाए गए यात्री घर जा सकेंगे, पर 7 दिन तक आइसोलेट रहना होगा। ऐसे यात्रियों का 8वें दिन फिर टेस्ट होगा और अगले 7 दिन उन्हें सेल्फ मॉनिटरिंग करनी होगी।
. ओमिक्रॉन के खतरे की श्रेणी से जिन देशों को बाहर रखा गया है, वहां से आने वाले यात्रियों में 5 फीसदी की टेस्टिंग जरूर की जाएगी।
. राज्य भी विदेशों से आने वाले यात्रियों की निगरानी करें, टेस्टिंग बढ़ाएं और कोरोना हॉटस्पॉट की भी निगरानी करें।

दिसंबर- विदेश से लौटे यात्री
3 दिसंबर- 249
4 दिसंबर- 333
5 दिसंबर- 449
6 दिसंबर- 449
7 दिसंबर- 670

खबरें और भी हैं...