मॉल में 30 फीट ऊंचाई से गिरा युवक:मेरठ में दोस्तों के साथ घूमने गया था, पैर फिसलने से तीसरी मंजिल से सिर के बल गिरा, मौत

मेरठएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मेरठ के शॉप्रिक्स मॉल की तीसरी मंजिल से गिरकर 23 साल के युवक की दर्दनाक मौत हो गई। दिवाली के दूसरे दिन शुक्रवार देर शाम युवक दोस्तों के साथ मॉल में घूमने आया था। मॉल में ऐस्कलेटर से नीचे उतरते वक्त पैर फिसल गया। इसमें वह 30 फीट ऊंचाई से सिर के बल नीचे आ गिरा। सिर में गंभीर चोट लगी। मॉल के कर्मचारियों ने पुलिस की मदद से निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया, जहां उपचार के दौरान मौत हो गई।

दिल्ली निवासी आमिर (23) मेरठ के लिसाड़ी गेट स्थित श्यामनगर में फुफेरी बहन शहजादी के घर रहता था। 2020 में लॉकडाउन लगा, जिसके बाद युवक अपनी फुफेरी बहन के घर ही रहने लगा। इंस्पेक्टर ब्रहमपुरी दिनेश चंद्र ने बताया कि शुक्रवार देर शाम आमिर के साथ उसके दो दोस्त भी थे। तीनों एक साथ तीसरी मंजिल से ऐस्कलेटर से उतर रहे थे, अचानक से पैर फिसला, जहां दोस्तों ने हाथ पकड़ने का प्रयास किया। लेकिन, आमिर सीधे 30 फीट ऊंचाई से ग्राउंड फ्लोर की फर्श पर आकर गिरा। घायल को बागपत रोड स्थित KMC अस्पताल में ले जाया गया, एक घंटे बाद उपचार के दौरान युवक की मौत हो गई।

फोन पर मिली घरवालों को मौत की खबर
हादसे के बाद आमिर की फुफेरी बहन शहजादी व अन्य रिश्तेदार भी मौके पर पहुंचे। जहां पुलिस ने सभी के बयान दर्ज किए। फुफेरी बहन ने पुलिस को बताया की शाम करीब 5 बजे आमिर यह कहकर आया था कि मैं पड़ोस में दोस्त सुहेल के साथ हूं, अभी कुछ देर में आ जाऊंगा। रात में हादसे की सूचना आमिर के दोस्त सुहेल से फोन पर मिली।

मॉल में इसी जगह फर्श पर आकर युवक आमिर गिरा ।
मॉल में इसी जगह फर्श पर आकर युवक आमिर गिरा ।

मॉल के CCTV में घटना कैद
हादसे के बाद रात में पुलिस ने शॉप्रिक्स मॉल में सीसीटीवी कैमरे की फुटेज भी देखी। 14 सेकंड की फुटेज में आमिर अपने दो दोस्तों के साथ ऐस्कलेटर से उतरता दिखा, अचानक से नीचे आ गिरा। फुटेज के आधार पर व अमीर के दोस्त सुहेल ने भी यही बताया कि पैर फिसलने से हादसा हुआ है।

4 साल पहले PVS मॉल में भी हुआ था ऐसा ही हादसा
29 सितंबर 2017 को मेरठ के शास्त्रीनगर स्थित पीवीएस मॉल में भी ऐसे ही हादसा हुआ था। मेरठ के मछेरान निवासी युवती गुलफसा अपने दोस्त शानू निवासी रामपुर के साथ मॉल में मूवी देखने गई थी। टिकट नहीं मिलने पर दोनों सीढ़ियों से उतने लगे। सीढ़ी के पास ही एक गत्ते का फ्लैक्स बोर्ड रखा हुआ था। युवती का हाथ लगकर फ्लैक्स बोर्ड गिरा तो वो भी गिर गई। युवती को बचाने में उसका दोस्त शानू भी गिर गया था। बाद में उपचार के दौरान दोस्त की मौत हो गई थी।