पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Meerut
  • After 18 Months, For The First Time In The District, The Active Cases Of Corona Reduced To 2, Even In These There Were No Symptoms Of Corona, In The Second Wave, Beds Were Reduced In Hospitals.

कोरोना मुक्त होने के कगार पर मेरठ:एक्टिव केस की संख्या घटकर हुई 2, कोविड के लक्षण नहीं, दूसरी लहर में अस्पतालों में कम पड़ गए थे बेड

मेरठ6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सीएमओ डॉ अखिलेश मोहन का कहना है एक सितंबर से 10 सितंबर 2021 तक जिले में 41 हजार लोगों का कोरोना के लिए टेस्ट किया गया। 12 सितंबर की रात्रि तक जिले में कोरोना के एक्टिव केस 2 हैं। - Dainik Bhaskar
सीएमओ डॉ अखिलेश मोहन का कहना है एक सितंबर से 10 सितंबर 2021 तक जिले में 41 हजार लोगों का कोरोना के लिए टेस्ट किया गया। 12 सितंबर की रात्रि तक जिले में कोरोना के एक्टिव केस 2 हैं।

मेरठ अब कोरोना से मुक्त होने की दहलीज पर है। 18 महीने बाद पहली बार जिले में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या सिर्फ 2 बची है। ये दोनों मरीज होमआइशोलेशन में हैं। इनमें कोरोना का कोई भी लक्षण नहीं है। दूसरी लहर में अप्रैल व मई के महीने में जिले में यह हाल था कि अस्पतालों में मरीजों को भर्ती करने के लिए बेड कम पड़ गए थे।

27 मार्च 2020 को मिला था पहला मरीज

मेरठ जिले में कोरोना का पहला मरीज 27 मार्च 2020 को मिला था। उस समय स्वास्थ्य विभाग का दावा था कि प्रदेश में सबसे पहला मरीज मेरठ में मिला। यह मरीज बुलंदशहर के खुर्जा का रहने वाला क्रोकरी कारोबारी (50) था, जो महाराष्ट्र के अमरावती से ट्रेन से मेरठ में शास्त्रीनगर में अपनी ससुराल में आया था। बाद में इसी मरीज के परिवार व रिश्तेदार 23 लोग संक्रमित मिले।

जिले में कोरोना से पहली माैत 1 अप्रैल 2020 को हुई थी। उसके बाद कोरोना ने जिले में इस तरह रफ्तार पकड़ी की पहली कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ना मुसीबत बनता रहा।

अप्रैल 2021 से फिर से तेजी से बढ़े मरीज

कोरोना संक्रमण के मरीजों की संख्या जनवरी व फरवारी 2021 में ही घटने लगी थी। लेकिन इन महीनों में औसतन दो से तीन मरीज हर राेज मिल रहे थे। मार्च 2021 में जिले में एक्टिव केस की संख्या 5 पर आ गई थी। लेकिन अप्रैल का माह शुरू होते ही कोरोना की दूसरी लहर में तेजी से कोरोना के मरीज बढ़े।

अप्रैल के आखिरी सप्ताह व एक मई 2021 को हर रोज 2688 तक मरीज एक दिन में मिले। जहां मरीजों को न तो अस्पताल में बेड मिले और न ही समय से ऑक्सीजन।

पिछले 10 दिन में 41 हजार लोगों का टेस्ट

सीएमओ डॉ अखिलेश मोहन का कहना है एक सितंबर से 10 सितंबर 2021 तक जिले में 41 हजार लोगों का कोरोना के लिए टेस्ट किया गया। 12 सितंबर की रात्रि तक जिले में कोरोना के एक्टिव केस 2 हैं।

मेडिकल कॉलेज व अन्य अस्पतालों में कोई भी मरीज एडमिट नहीं है। जल्द ही जिला कोरोना मुक्त हो जाएगा। प्रयास किए जा रहे हैं की कोरोना की चेन को जिले में पूरी तरह से तोड़ा जा सके।

खबरें और भी हैं...