यूपी के नगर विकास मंत्री का विपक्ष पर निशाना:मेरठ में लोकार्पण समारोह में आशुतोष टंडन ने कहा- सोकर उठे और एक ट्वीट कर देने से जनता सीटें नहीं देती

मेरठ9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीसीएसयू बृहस्पति भवन में हुए लोकार्पण समारोह में मौजूद नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन व अन्य जनप्रतिनिधि - Dainik Bhaskar
सीसीएसयू बृहस्पति भवन में हुए लोकार्पण समारोह में मौजूद नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन व अन्य जनप्रतिनिधि

उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार में नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि सोकर उठे और एक ट्वीट कर दिया, इतने से जनता सीटें नहीं देती। जनता का भरोसा जीतना होता है जो सपा ने नहीं किया। मेरठ में विकास योजनाओं के शिलान्यास समारोह में पहुंचे मंत्री आशुतोष टंडन ने दावा किया इस बार भी प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी। चौधरी चरण सिंह विवि में आयोजित परियोजना लोकार्पण समारोह में मंत्री ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि मुंगेरीलाल के हसीन सपने तो कोई भी देख सकता है।

मंत्री आशुतोष टंडन ने कहा कि जब अखिलेश यादव की सरकार थी तब उन्होंने क्या किया। विपक्ष की भूमिका भी कभी नहीं निभाई। सिर्फ सोकर उठे और एक ट्वीट कर दिया, उसके आधार पर जनता उन्हें सीटें दे देगी इस कल्पना में न रहें, जनता का विश्वास मोदीजी और योगीजी के प्रति है। बीजेपी 300 से अधिक सीटें बनाकर दोबारा सरकार बनाएगी।

62 करोड़ 22 लाख की 67 परियोजनाओं का शिलान्यास
62 करोड़ 22 लाख की 67 परियोजनाओं का शिलान्यास

सपा विधायक की कुर्सी रही खाली
नगर निगम की ओर से इस शिलान्यास समारोह का आयोजन हुआ। समारोह में शहर की पहली व्यक्ति और समाजवादी पार्टी की नेता महापौर सुनीता वर्मा पहुंची। साथ ही मेरठ शहर के तीनों विधायकों व अन्य जनप्रतिनिधियों के लिए मंच पर कुर्सी लगाई गई थी। भाजपा के दोनों विधायक, एमएलसी आयोजन में आए मगर शहर सीट से सपा विधायक रफीक अंसारी की कुर्सी खाली रही। विपक्षी पार्टी का आयोजन मानकर शहर विधायक आयोजन में नहीं पहुंचे, उनके न आने का कारण पूछा गया तो पार्टी की साइकिल रैली में व्यस्तता बताई।

आयोजन में बोलते नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन
आयोजन में बोलते नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन

बार-बार फिसली महापौर की जुबान
आयोजन में महापौर सुनीता वर्मा ने अपने भाषण में 3 बार नगर विकास मंत्री को मुख्यमंत्री कह दिया। कूड़ा निस्तारण प्लांट को वो बिजली निस्तारण प्लांट कहने लगी। असिस्टेंट के इशारा करने पर उन्होंने इसे सुधारा और मंत्री कहा। महापौर ने मंत्री से मेरठ नाला सफाई व नालों को ढंकने के लिए बजट मांगा। साथ ही संविदा पर रखे गए सफाई कर्मियों को स्थाई नियुक्ति करने की मांग की है।

62 करोड़ 22 लाख की 67 परियोजनाओं का शिलान्यास
मंत्री ने मेरठ में इस दौरान 62 करोड़ 22 लाख की 67 परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्र में जनजीवन सुगम बनाएंगे। मूलभूत सुविधाएं प्रदान कराने का प्रयास कर रहे हैं। स्वच्छता सर्वेक्षण में भी मेरठ आगे रहेगा। इसके बाद मंत्री लोहिया नगर में 3.5 करोड़ के कूड़ा निस्तारण प्लांट का शुभारंभ करने गए। 62 करोड़ 22 लाख की इन परियोजनाओं में आरसीसी सड़क, नाली व डेंट कार्य, नाले पर निर्माण कार्य, टाइल्स, इंटरलॉकिंग, पटरी, फुटपाथ, नाला निर्माण, शौचालय निर्माण, गंगाजल वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, सीवर हाउस कनेक्टिंग चैंबर, रीबोर नलकूप योजनाएं शामिल हैं। मंत्री ने कहा कि प्रदेश में 700 इलेक्ट्रानिक बसें शुरू की जा रही हैं, इसमें से 50 बसें बहुत जल्द मेरठ को मिलेंगी।

600 टन कूड़ा प्रतिदिन होगा निस्तारित
मेरठ के लोहिया नगर में मंत्री ने कूड़ा निरस्तारण प्लांट का शुभारंभ किया। साढ़े तीन करोड़ की लागत से यह प्लांट बनकर तैयार हुआ है। 600 टन प्रतिदिन कूड़ा निस्तारण होगा। जो लगातार दिनरात चलेगा ताकि लोहिया नगर में बने कूड़े के पुराने पहाड़ को खत्म किया जा सके। 30 टन प्रति घंटा कूड़ा निस्तारण करने की क्षमता इस प्लांट में हैं। इस प्लांट से जो कंपोस्ट निकलेगा वो किसानों द्वारा खेतों को उपजाऊ बनाने के लिए प्रयोग होगा। जो आरडीएफ यहां से निकलेगा वो एक प्रकार का फ्यूल होगा जो कंपनियों को प्रदान किया जाएगा। ताकि कूडे़ का यह पहाड़ खत्म हो। जो फ्यूल निकलेगा वो भट्‌टों व बिजली बनाने के लिए प्रयोग हो सकता है। इसके लिए निगम कई कंपनियों से टायअप करेगा ताकि यह फ्यूल बेचकर निगम को आय मिल सके। अन्य जो मटीरियल निकलेगा उसे रीयूज करने का प्रयास किया जाएगा। 700-800 टन फ्रेश कूड़ा रोजाना मेरठ में उत्सर्जित हो रहा है उसके लिए एक नया प्लांट लगाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...