पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संगठन मंत्री सुनील बंसल ने ली संगठन की थाह:नए अभियानों के साथ विधानसभा चुनाव को धार देगी भाजपा, वेस्ट UP के 14 जिलों में पंचायत चुनाव पर BJP ने किया मंथन

मेरठ13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
संगठन मंत्री सुनील बंसल ने ली संगठन की बैठक। - Dainik Bhaskar
संगठन मंत्री सुनील बंसल ने ली संगठन की बैठक।

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को भाजपा दर्जनों नए अभियानों को भाजपा धार देगी। पार्टी पश्चिमी यूपी में अभियानों के खाद पानी से चुनावी जमीन तैयार कर रही है। शुक्रवार को मेरठ में 19 जिला, महानगर अध्यक्षों की बैठक में प्रदेश संगठन महामंत्री सुनील बंसल ने योजनाओं के प्रचार की घुट्‌टी पिलाई। कार्यकर्ताओं को साफ निर्देश दिया कि जनता से संवाद बनाएं। केंद्र, राज्य सरकार की योजनाओं का प्रचार करें। खासकर योगी सरकार की योजनाओं का प्रचार करने पर जोर दिया।

मेरठ हरमन सिटी में भाजपा के क्षेत्रीय कार्यालय में 19 जिला-महानगर अध्यक्षों के साथ बैठक हुई। बैठक का एकसूत्रीय एजेंडा पंचायत चुनाव और 2022 विधानसभा चुनाव की तैयारी था।
कोरोना में योद्धा बनकर जुटे, अब बड़ी चुनौती
सुनील बंसल ने कार्यकर्ताओं को कोरोना योद्धा बताते हुए कहा पिछले दिनों सेवा ही संगठन के नाम से जो काम किया वो जारी रखना है। योजनाओ का प्रचार करना है। अभियान संचालित करने हैं। कोरोना टीकाकरण में लोगों के साथ खड़े रहें। जनप्रतिनिध गांवों, सीएचसी, पीएचसी को गोद लेकर वहां काम कराएं। वेस्ट यूपी की 14 लोकसभा में 71 विधानसभा सीटें पार्टी के लिए बेहद अहम हैं। पिछले 15 दिन में पहले सीएम, प्रदेश अध्यक्ष अब प्रदेश संगठन महामंत्री जैसे दिग्गज दौरा कर चुके हैं।

प्रत्याशियों के आंकलन में चूका संगठन
हार की समीक्षा के बीच बैठक में चुनावी तैयारी पर चर्चा हुई। बैठक का मुख्य उद्देश्य पंचायत चुनाव में हुई हार की समीक्षा थी। इसके साथ सुनील बंसल ने आगामी पंचायत अध्यक्ष चुनाव और 2022 के चुनावों की तैयारी पर फोकस किया। पार्टी के दिग्गजों ने2022 के लिए चुनावी रणनीति को मजबूत किया। सुनील बंसल ने कहा पंचायत चुनाव की हार का कारण प्रत्याशियों की योग्यता का का सही आंकलन न होना है। महानगर संगठन प्रत्याशियों का सही आंकलन नहीं कर सका। जनप्रतिनिधियों के दवाब में टिकट फाइनल होने की बात सामने आ रही है। अब ऐसा नहीं होना चाहिए। संगठन सबके साथ है, सबको संगठन के
साथ चलना है।

जिला, महानगर अध्यक्षों में अभी नहीं बदलाव
पंचायत चुनाव की हार का कारण पार्टी कार्यकर्ताओं के मतभेदों को माना जा रहा है। हार से आपसी मतभेदों की खाई और गहरी हुई है। कार्यकर्ताओं की अंदरुनी राजनीति न बढ़े इस डर से भाजपा ठिठक गई है। जिला, महानगर अध्यक्षों में बदलाव को फिलहाल रोक दिया गया है। सुनील बंसल ने विधानसभा चुनाव तक कोई बदलाव न होने का संकेत दिया। पश्चिम के प्रभारी जेपीएस राठौर ने किसी बदलाव के नहीं होगी स्पष्ट कहा। उन्होंने कहा जो हैं वो अच्छे हैं उन्हीं के दम पर पार्टी 2022 का चुनाव फतह करेगी।

14 जिलों के पंचायत अध्यक्ष के दावेदारों पर मंथन
बैठक में वेस्ट के 14 जिलों के पंचायत अध्यक्ष के दावेदारों के नामों पर मंथन हुआ। माना जा रहा है 15 जुलाई तक अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होंगे। 20 को पंचायत अध्यक्ष का नामांकन है। प्रदेश इकाई दावेदारों की सूची 20 के आसपास जारी करेगी।संगठन में जो खाली पद हैं उन्हें भी जल्द भरा जाएगा। पदों को भरने के साथ पार्टी 2022 विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटेगी। मेरठ की जिला इकाई में दो महामंत्री, एक उपाध्यक्ष व एक मंत्री पद खाली है। ब्लॉक प्रमुख, पंचायत अध्यक्ष बनाने पर जातिगत समीकरणों को साधते हुए विचार हुआ।

खबरें और भी हैं...