मेरठ में अब 11 नवंबर को आएंगे सीएम योगी:टोक्यो पैरालिंपिक के 19 पदक विजेताओं को करेंगे सम्मानित, खेल मंत्री भी होंगे शामिल

मेरठएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सम्मान समारोह के बाद मुख्यमंत्री जनसभा को संबोधित करेंगे। - Dainik Bhaskar
सम्मान समारोह के बाद मुख्यमंत्री जनसभा को संबोधित करेंगे।

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ अब 11 नवंबर को मेरठ आएंगे। मुख्यमंत्री की 10 नवंबर को मेरठ में होने वाली जनसभा की तारीख एक दिन आगे बढ़ा दी गई है। 11 नवंबर को सीएम योगी के साथ खेल मंत्री अनुराग ठाकुर मेरठ पहुंचेंगे। यहां सरदार वल्लभभाई पटेल कृषि विश्वविद्यालय में खिलाड़ियों को सम्मानित करेंगे।

यूपी सीएम के साथ खेल मंत्री अनुराग ठाकुर टोक्यो पैरालिंपिक के पदक विजेताओं को करेंगे सम्मानित
यूपी सीएम के साथ खेल मंत्री अनुराग ठाकुर टोक्यो पैरालिंपिक के पदक विजेताओं को करेंगे सम्मानित

टोक्यो पैरालिंपिक खिलाड़ियों का होना है सम्मान

मुख्यमंत्री योगी व केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर मेरठ में टोक्यो पैरालिंपिक 2020 के 19 पदक विजेताओं को सम्मानित करेंगे। समारोह में यूपी के 2078 दिव्यांग खिलाड़ी भाग लेंगे। सम्मान समारोह के बाद मुख्यमंत्री जनसभा को संबोधित करेंगे। लगभग 5 हजार लोगों की भीड़ आयोजन स्थल पर रहेगी। आयोजन के लिए तैयारियां तेज हो गई हैं। मेरठ में पहली बार इतने खिलाड़ी एक साथ जुटेंगे।

8 नवंबर को कैराना में होंगे सीएम

8 नवंबर को मुख्यमंत्री शामली के कैराना में रहेंगे। कैराना में बनने वाले पीएसी बटालियन कैंप की भूमि का शिलान्यास करेंगे साथ ही विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास करेंगे। मेरठ में सीएम मेजर ध्यानचंद खेल विवि का शिलान्यास करेंगे। साथ ही सहारनपुर के देवबंद में घोषित एटीएस ट्रेनिंग सेंटर का शिलान्यास भी इसी दरम्यान होगा।

अन्नपूर्णा की मूर्ति लेने जाएंगे दिल्ली

सीएम योगी के दौरे में हुए बदलाव का कारण 11 नवंबर को दिल्ली में मां अन्नपूर्णा की भव्य यात्रा को माना जा रहा है। दरअसल 11 नवंबर को गोपाष्टमी के दिन अन्नपूर्णा माता की मृर्ति को कनाडा से दिल्ली लाया जाएगा। दिल्ली से यह मूर्ति भव्य सजावट के साथ वाहन पर वाराणसी के लिए रवाना होगी। दिल्ली सरकार यूपी के सीएम को यह मूर्ति सौपेंगी। इस अवसर पर भव्य शोभायात्रा भी निकाली जाएगी। योगी आदित्यनाथ स्वयं इस मूर्ति को लेंगे।

मेरठ, दिल्ली नजदीक होने के कारण सीएम मेरठ की जनसभा, सम्मान समारोह व दिल्ली में अन्नपूर्णा माता यात्रा समारोह दोनों में शामिल होंगे। दिल्ली से यह मूर्ति वाराणसी ले जाई जाएगी। जहां 15 नवंबर को मूर्ति की प्राणप्रतिष्ठा होगी।