• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Meerut
  • Darbhanga Parcel Blast Case, Police Detained Father son From Shamli; The Name Of Pakistani Agency ISI Surfaced, Now NIA Will Investigate

बिहार में हुए विस्फोट के तार यूपी से जुड़े:पुलिस ने शामली से पिता-पुत्र को हिरासत में लिया; पाकिस्तानी एजेंसी ISI का नाम सामने आया, अब NIA जांच करेगी

मेरठएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
17 जून को बिहार के दरभंगा रेलवे स्टेशन पर एक पार्सल में ब्लास्ट हुआ था। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
17 जून को बिहार के दरभंगा रेलवे स्टेशन पर एक पार्सल में ब्लास्ट हुआ था। (फाइल फोटो)

बिहार के दरभंगा रेलवे स्टेशन पर 17 जून को हुए पार्सल ब्लास्ट मामले के तार शामली से जुड़ते दिखाई दे रहे हैं। इस मामले में ATS के इनपुट पर शामली से ही पिता और पुत्र को हिरासत में ले लिया है। ये दोनों कैराना के रहने वाले हैं। बताया जाता है कि इन्हीं की आईडी पर सिम कार्ड लिया गया था, जिसका नंबर पार्सल पर मिला है। इन दोनों से पूछताछ की जा रही है। उधर, दूसरी ओर इस पूरे मामले में पाकिस्तानी एजेंसी ISI का नाम सामने आने के बाद गृह मंत्रालय ने इसकी जांच NIA को सौंपने का फैसला लिया है। गुरुवार को इसके लिए आदेश भी जारी कर दिया गया। अभी तक ATS इसकी जांच कर रही है।

दरभंगा स्टेशन पर हुआ था विस्फोट
बिहार के दरभंगा स्टेशन पर 17 जून को विस्फोट हुआ। जांच में आया था कि सिकंदराबाद से आई एक ट्रेन से दरभंगा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 2 पर एक पार्सल उतार कर प्लेटफार्म एक पर पर लाया गया। इसी दौरान उसमें विस्फोट हुआ और पार्सल में पैक कपड़े की गठिया में आग लग गई। जब रेलवे व GRP ने आग बुझाने के बाद गठरी की जांच की तो उसमें छोटी बोतल मिली। जिसमें लिक्विड भरा हुआ था। फारेंसिक जांच भी की गई। NIA का अलावा यूपी ATS भी लगी। कपड़े की इस गठरी को पार्सल के द्वारा मोहम्मद सुफियान नामक व्यक्ति ने सिकंदराबाद से दरभंगा भेजा गया।

दरभंगा जंक्शन पार्सल ब्लास्ट में अब तक की जांच एक नजर में

  • 17 जून को दरभंगा जंक्शन के प्लेटफार्म संख्या एक पर सिकंदराबाद-दरभंगा एक्सप्रेस से पहुंचे पार्सल में ब्लास्ट हुआ था।
  • 18 जून को FSL की टीम ने दरभंगा जंक्शन पार्सल ब्लास्ट मामले में मिले कपड़े और शीशी का को कलेक्ट किया।
  • 19 जून को समस्तीपुर कोर्ट के आदेश के बाद FSL लैब मुजफ्फरपुर को पार्सल ब्लास्ट वाले कपड़े और शीशी दी गई।
  • 19 जून की देर रात दरभंगा जीआरपी सिकंदराबाद जंक्शन पहुंच ब्लास्ट की जांच शुरू की।
  • 19 जून को ही एटीएस की टीम दरभंगा जंक्शन पहुंच जांच शुरू की।

NIA ने मामला दर्ज कर लिया
NIA ने इस मामले को लेकर अपने लखनऊ यूनिट में FIR दर्ज कर ली है। शुक्रवार को मामले की जांच के लिए NIA की 6 सदस्यीय टीम बिहार जाएगी। टीम के सीधे दरभंगा जाने की संभावना है, जहां वह रेलवे स्टेशन ग्राउंड जीरो पर जाकर पार्सल ब्लास्ट मामले का अपने स्तर से छानबीन शुरू करेगी।

खबरें और भी हैं...