हिल्स सा ठंडा हुआ पश्चिमी यूपी:बारिश से गिरा तापमान, तीन दिनों में पहाड़ों सा हुआ मौसम

मेरठ6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
5 जनवरी को मेरठ में ऐसा रहा नजारा, जीरो विजिबिलिटी में दिन भरा छाया रहा कोहरा। - Dainik Bhaskar
5 जनवरी को मेरठ में ऐसा रहा नजारा, जीरो विजिबिलिटी में दिन भरा छाया रहा कोहरा।

पहाड़ों पर बर्फबारी के चलते पश्चिमी उत्तर प्रदेश का मौसम बेहद ठंडा और ठिठुरन भर हो गया है। मेरठ, सहारनपुर, बिजनौर सहित आसपास के जिलों में लगातार तापमान में गिरावट जारी है। मेरठ की हवा हिल्स जैसे हिलोरे ले रही है। 5 जनवरी को दिनभर हुई बरसात के बाद तापमान शिमला, मसूरी, श्रीनगर के आसपास पहुंच गया। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के चलते बदला मौसम मैदानी इलाकों में पहाड़ों का फील करा रहा है।

हिल स्टेशन के बराबर मेरठ का तापमान

5 जनवरी को मेरठ के सिविल लाइंस इलाके में यह रहा मौसम का नजारा
5 जनवरी को मेरठ के सिविल लाइंस इलाके में यह रहा मौसम का नजारा

मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक एन सुभाष के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के कारण मौसम बदला है। 5 जनवरी को पूरे यूपी में दिनभर बादल छाए रहे और बरसात भी हुई। पश्चिमी विक्षोभ के आने का सबसे ज्यादा असर उत्तराखंड और हिमालय की तराई में आने वाले पश्चिमी यूपी के मैदानी इलाकों में देखा गया है। इसमें मुरादाबाद, बिजनौर, सहारनपुर, मेरठ प्रमुख है। इन इलाकों में दिनभर बारिश होती रही, धूप न निकलने के कारण घना कोहरा छाया रहा और जीरो विजिबिलिटी रही जो पहाड़ों पर बादलों के बीच होने का अहसास कराती रही। 5 जनवरी को मेरठ का तापमान

इस तरह बदला मौसम

दिनभर छाया रहा कोहरा 6 जनवरी को निकली धूप आज फिर मौसम में बारिश के आसार
दिनभर छाया रहा कोहरा 6 जनवरी को निकली धूप आज फिर मौसम में बारिश के आसार

5 जनवरी को मेरठ का न्यूनतम तापमान घटकर 5.8 डिग्री तक पहुंच गया। इस दिन जम्मू में न्यूनतम तापमान 7. 7 डिग्री सेल्सियस रहा। श्रीनगर में दिन का अधिकतम तापमान 6.8 डिग्री और न्यूनतम 3. 0 डिग्री, पहलगाम में दिन का अधिकतम तापमान 3. 3 डिग्री और न्यूनतम तापमान माइनस 3. 0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। मनाली में तापमान 3 डिग्री, मसूरी में 6 डिग्री और शिमला में तापमान 5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। 7 जनवरी को मेरठ में सुबह 11 बजे तक न्यूनतम तापमान 10.4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया है। जबकि जम्मू में 10.3, मसूरी में 1.8 तापमान रहा।

लोगों ने कैंसिल किए टूर एंड ट्रिप
क्रिसमस के समय हुए विंटर ब्रेक में मेरठ सहित एनसीआर, आसपास के जिलों के लोग पहाड़ों पर बर्फबारी का आनंद उठाने जाते हैं। 25 दिसंबर से 10 जनवरी तक पहाड़ों पर बर्फबारी का सबसे पीक टाइम होता है इस समय काफी भीड़ लगती है। इस बार मैदानी इलाकों मे मौसम ठंडा होने और कोरोना के कारण लोगों ने हिल्स के ट्रिप कैंसिल कर दिए हैं। हल्की बारिश, कोहरे के बीच परिवार सहित यहीं मौसम का मजा ले रहे हैं।

5 को गिरा और 6 जनवरी को उठा पारा
5 जनवरी को दिनभर बूंदाबांदी के बाद रात में भी झमाझम बारिश हुई। 6 जनवरी को आगरा, अलीगढ़ और लखनऊ मंडल के जिलों बारिश हुई। 5 जनवरी के मुकाबले 6 जनवरी को दिन के तापमान में 4.5 डिग्री और रात के तापमान में 2.1 डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की गई। 6 जनवरी का मौसम कार्यालय पर अधिकतम तापमान 19.6 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 10.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम आद्रता 95 और न्यूनतम आद्रता 58 प्रतिशत दर्ज की गई। 6.2 किमी प्रतिघंटा से हवा चली। वहीं बारिश 6.9 मिमी. दर्ज की गई।

खबरें और भी हैं...