योगी की पुलिस से लगता है डर:वेस्ट यूपी के अपराधियों में एनकाउंटर का खौफ; जान जाने के डर से 5 वांटेड अपराधियों ने किया सरेंडर, हत्या का प्रयास और लूट जैसे कई संगीन मामलों में थे फरार

शामली7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अपनी जान बचाने के लिए कई मामलों में फरार चल रहे 5 अपराधियों ने पुलिस के सामने किया सरेंडर। - Dainik Bhaskar
अपनी जान बचाने के लिए कई मामलों में फरार चल रहे 5 अपराधियों ने पुलिस के सामने किया सरेंडर।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पुलिस से डरकर 5 अपराधियों ने सरेंडर कर दिया। यह सभी आरोपी हत्या का प्रयास और लूट सहित कई संगीन मामलों में फरार चल रहे थे। लंबे समय से फरार चल रहे इन अपराधियों के खिलाफ पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट लगाया था। गैंगस्टर एक्ट लगने के बाद पांचों अपराधियों को योगी की पुलिस से जान का खतरा सताने लगा। पुलिस एनकाउंटर में जान गवाने के डर से पांचों अपराधियों ने शामली पुलिस के आगे सरेंडर कर दिया। अपराधियों ने पुलिस के सामने समर्पण कर कहा कि, हम लोग अपना गुनाह कबूल करते हैं, आप हमें जेल भेज दीजिए। जेल में जान तो बची रहेगी...

क्या है पूरा मामला

मामला जिले की कैराना कोतवाली का है। जहां कई मामलों में फरार चल रहे 5 अपराधियों ने अपराध से तौबा करते हुए खुद से सरेंडर कर दिया। दरअसल, पुलिस ने अपराधियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई करने की तैयारी कर रही थी। पुलिस की इस कार्यवाई पर उनको मौत का डर सताने लगा। इसलिए खुद ही अपनी जान बचाने के लिए वह कोतवाली पहुंच गए और पुलिस से गिरफ्तार करने की गुजारिश करने लगे। इन अपराधियों पर बलवा, हत्या का प्रयास व लूट सहित कई मामले दर्ज हैं।

50 लोगों पर पुलिस ने लगाया था गैंगस्टर

दरअसल, फरवरी में शामली पुलिस ने कैराना विधायक नाहिद हसन और उनकी मां पूर्व सांसद तबस्सुम हसन सहित 50 लोगों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत केस दर्ज किया था। इसी मामले को लेकर पुलिस कई महीनों से इन बदमाशों की तलाश कर रही थी। पुलिस ने बताया कि, अपराधियों के खिलाफ बलवा, हत्या का प्रयास व लूट सहित कई मामले दर्ज हैं। इसलिए उनके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की गई थी।

टॉप 10 अपराधियों को गिरफ्तार किया

अपराधियों की धर पकड़ के लिए शामली पुलिस लगातार अभियान चला रही है। पुलिस के अभियान चलाने से यूपी वेस्ट के अपराधियों में खौफ है। पुलिस ने बताया कि, अनलॉक होने के बाद अपराधियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। 7 दिन पहले शामली में कांधला पुलिस ने टॉप 10 अपराधियों को गिरफ्तार किया था। इसमें नीरज पुत्र महेंद्र निवासी खंद्रावली गांव के अलावा दो गैंगस्टरों को भी गिरफ्तार किया था।

इन्होंने किया सरेंडर

जान बचाने के लिए 5 अपराधियों ने सरेंडर किया। इसमें अफरून पुत्र लियाकत, कय्यूम पुत्र नजीर हसन उर्फ नसीम, राशिद उर्फ भूरा पुत्र रियासत, सलीम पुत्र सईद, हारून उर्फ गुड्डू पुत्र वशीद ने कोतवाली पहुंचकर अपना गुनाह कबूल किया। सभी पांचों अपराधी ग्राम रामड़ा थाना कैराना के रहने वाले हैं। सीओ सिटी प्रदीप कुमार ने बताया कि, एनकाउंटर से बचने के लिए अपराधियों ने खुद ही कोतवाली में सरेंडर कर दिया है।