पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

UP में बीच सड़क बदमाशों का तांडव:गाजियाबाद में लोहे की रॉड से पीट-पीटकर पुजारी के बेटे की हत्या; दो दरोगा और एक हेड कांस्टेबल सस्पेंड

गाजियाबाद9 महीने पहले
यह फोटो गाजियाबाद की है। यहां सोमवार को युवक की हुई हत्या का वीडियो वायरल है।
  • लोनी थाना क्षेत्र का मामला, सोमवार दोपहर की वारदात
  • पुलिसकर्मियों ने समय रहते नहीं की कार्रवाई, आरोपी फरार

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में बेखौफ बदमाशों ने बीच सड़क एक युवक की लोहे की रॉड से पीट-पीटकर हत्या कर दी। यह वारदात लोनी थाना क्षेत्र में डीएलएफ अंकुर विहार कॉलोनी के सामने की है। आरोप है कि मंदिर पर फूल बेचने को लेकर विवाद हुआ था। मृतक के परिजनों ने दो आरोपियों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। इस मामले में SSP कलानिधि नैथानी ने दो दरोगा शशिपाल भारद्वाज व अंकित कुमार और हेड कांस्टेबल धीरज चतुर्वेदी को निलंबित कर दिया है। इन तीनों पुलिस कर्मियों पर समय रहते पूरी जानकारी होने के बावजूद कार्रवाई नहीं करने का आरोप है। SSP ने पुलिसकर्मियों खिलाफ विभागीय जांच के भी आदेश दिए हैं।

बिहार का रहने वाला था युवक

मूल रुप से बिहार का रहने वाला सुरेंद्र बीते करीब 20 वर्षों से लोनी थाने की डीएलएफ अंकुर विहार कॉलोनी में खजूरी पुस्ता मार्ग पर स्थित महाकाल शक्ति पीठ मंदिर में पूजा पाठ का काम करते हैं। वे मंदिर के पास स्थित एक मकान में ही परिवार सहित रहते हैं। उनका छोटा बेटा अजय 34-खारी बावडी दिल्ली में एक कपड़े की दुकान पर नौकरी करता था। इसके अलावा खाली समय में मंदिर में फूल बेचने का काम करता था। जबकि मंदिर की एक दुकान में सोनिया विहार दिल्ली का गोविंद भी फूलों की दुकान चलाता है। फूल बेचने को लेकर अजय एवं गोविंद के बीच विवाद होता रहता था।

सोमवार सुबह करीब 11.30 बजे अजय खारी बावडी दिल्ली अपनी दुकान पर जाने के लिए घर से निकला था। जैसे ही वह खजूरी पुस्ता रोड पर ऑटो में बैठा, इसी दौरान गोविंद व उसका साथी बाइक पर सवार होकर वहां पहुंचे और उसे ऑटो से नीचे खींचकर लोहे की रॉड व डंडे से सिर पर ताबड़तोड़ वार कर गंभीर रुप से घायल कर दिया। वारदात के बाद दोनों आरोपी फरार हो गए। परिजनों ने घायल अजय को अस्पताल पहुंचाया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

पुलिस ने पहले की होती कार्रवाई तो नहीं जाती जान

मृतक अजय के पिता सुरेंद्र ने बताया कि 9 जुलाई को भी गोविंद व उसके भाई ने अजय के साथ मारपीट की थी। जिसकी शिकायत उसने पुलिस से की थी, लेकिन कार्रवाई नहीं होने के कारण गोविंद के हौसले बढ़ गए थे और उसने अजय की हत्या कर दी।

सीओ बोले- जल्द आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा

अजय के परिजनों ने गोविंद व उसके एक साथी के विरुद्ध हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। सीओ अतुल कुमार सोनकर का कहना है कि जल्द ही हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

खबरें और भी हैं...