CCSU से साइंस एंड टेक्नोलॉजी एग्रीकल्चर बॉटनी में करिए PHD:मेरठ सहित 8 जिलों के छात्रों के लिए खुशखबरी, यूनिवर्सिटी में हुए 4 अहम फैसले, पत्रकारिता में नए कोर्स पढ़ेंगे स्टूडेंट

मेरठ9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

CCSU ( चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय ) के छात्र अब जेनेटिक्स एंड प्लांट ब्रीडिंग विभाग के अलावा कई कोर्स कर सकते हैं। वनस्पति विज्ञान विभाग बायो टेक्नोलॉजी सीड साइंस एंड टेक्नोलॉजी एग्रीकल्चर बॉटनी में PHD भी कर सकेंगे। छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए चार प्रमुख फैसले लिए हैं।

सीसीएसयू में में सोमवार को विद्धत परिषद की बैठक ऑनलाइन हुई। बैठक में पत्रकारिता विभाग में चार नए कोर्स शुरू करने पर स्वीकृति मिली।

बैठक में छात्रों के लिए हुए 4 जरूरी फैसले जानें

1- विश्वविद्यालय परिसर स्थित जेनेटिक्स एंड प्लांट ब्रीडिंग विभाग के अलावा वनस्पति विज्ञान विभाग बायो टेक्नोलॉजी सीट साइंस एंड टेक्नोलॉजी एग्रीकल्चर बॉटनी में पीजी करने वाले छात्र भी पीएचडी कर सकेंगे और शिक्षक बन सकेंगे।

2 - शासन के निर्देशानुसार सहायक आचार्य सह आचार्य एवं आचार्य पद के लिए चयनित अभ्यार्थियों के नियमों में परिवर्तन किया गया है। अब साक्षात्कार में मिले नंबरों के आधार पर उनका चयन होगा।

3- विश्वविद्यालय से संबंध महाविद्यालयों में स्नातक स्तर पर पढ़ाने वाले शिक्षक भी शोध निर्देशक बन सकेंगे उनकी अहर्ता महाविद्यालय में पढ़ाने वाले पीजी पाठ्यक्रमों के शिक्षकों के समान ही होगी।

4- विश्वविद्यालय परिसर के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग में चार नए पाठ्यक्रमों के सिलेबस को स्वीकृति मिली, इन पाठ्यक्रमों में जनसंपर्क एवं विज्ञापन पीजी डिप्लोमा इन फिल्म प्रोडक्शन पीजी डिप्लोमा इन फंक्शनल जर्नलिज्म, एक प्रमाण पत्र कार्यक्रम पाठ्यक्रम मोबाइल पत्रकारिता है। इसके अतिरिक्त विभाग में चल रहे एमजेएमसी के पाठ्यक्रम को भी अपग्रेड किया गया।

खबरें और भी हैं...