मेरठ में हत्यारों को आजीवन कारावास:2006 में मेरठ में बीच सड़क पर गोली मारकर की थी हत्या

मेरठ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मेरठ कचहरी - Dainik Bhaskar
मेरठ कचहरी

मेरठ में 2006 में बीच सड़क पर हुई हत्या के मामले में शनिवार को कोर्ट से फैसला आया है। कोर्ट ने हत्यारों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। पीड़ित परिवार का कहना है की हमें कोर्ट पर भरोसा था। अब जब फैसला आया है तो लगा की हमें कुछ इंसाफ मिला है।
2006 में हुई थी हत्या
एडीसीसी क्रिमिनल मुकेश मित्तल ने बताया कि नदीम ने थाना लिसाड़ीगेट में रिपोर्ट दर्ज कराई कि वह 13 अगस्त 2006 को मामा गुफरान की दुकान पर ट्रक में कबाड़ का माल भर रहे थे। उसी समय आबाद अपने दोनों साथियों के साथ आया और गुफरान की तमंचे से गोली मारकर हत्या कर दी। कोर्ट ने गवाह व साक्ष्यों को देखते हुए आरोपियों को दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। न्यायालय अपर जिला जज कोर्ट संख्या 15 हर्ष अग्रवाल ने हत्या के आरोप में आरोपी आबाद, जावेद व परवेज निवासी लिसाड़ीगेट को यह सजा सुनाई है।

खबरें और भी हैं...