गाजियाबाद में किसानों-भाजपाइयों में विवाद गरमाया:मेरठ समेत कई जिलों में किसानों ने टोल प्लाजा फ्री कराए, थानों में धरने पर बैठे, गाजीपुर बॉर्डर पर बैठक शुरू

मेरठ, गाजियाबादएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भाकियू कार्यकर्ताओं ने थानों में किया प्रदर्शन - Dainik Bhaskar
भाकियू कार्यकर्ताओं ने थानों में किया प्रदर्शन

गाजीपुर बॉर्डर पर भाजपाइयों से टकराव के बाद 200 किसानों पर मुकदमा दर्ज होने से आक्रोशित भारतीय किसान यूनियन ने तेवर तल्ख कर दिए हैं। राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने ऐलान कर दिया है कि उत्तर प्रदेश के किसान अपने-अपने इलाके के टोल प्लाजा फ्री कराएं और थानों में धरना शुरू करें। मेरठ में नेशनल हाईवे 58 स्थित सिवाया टोल को कार्यकर्ताओं ने जब जबरन फ्री करा दिया। जहां पुलिस से भी नोकझोंक हुई।

गाजीपुर बॉर्डर की घटना पर टोल कराए फ्री

बुलंदशहर निवासी अमित वाल्मीकि को हाल ही में भाजपा का प्रदेश मंत्री मनोनीत किया गया है। बुधवार सुबह अमित वाल्मीकि का काफिला यूपी बॉर्डर से गाजियाबाद होते हुए बुलंदशहर जा रहा था। जैसे ही यह काफिला गाजीपुर बॉर्डर पर पहुंचा तो वहां पिछले 7 महीने से धरने पर बैठे किसानों ने भाजपा नेताओं को काले झंडे दिखाने शुरू कर दिए। इसे लेकर किसानों और भाजपाइयों में टकराव हुआ।

200 किसानों पर दर्ज हुआ है मुकदमा

भाजपाइयों का आरोप है कि किसानों ने उनकी 70-80 गाड़ियों में तोड़फोड़ कर दी। सरिये, चाकू, लाठी-डंडे और तलवार जैसे हथियारों से हमला करने का आरोप किसानों पर लगा है। भाजपा की पूर्व महानगर अध्यक्ष (महिला मोर्चा) सिद्धि प्रधान ने गाजियाबाद के कौशाम्बी थाने में 200 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

किसान बोले- हमारा मुकदमा भी दर्ज हो
भारतीय किसान यूनियन में इस बात से आक्रोश है कि सिर्फ भाजपा नेताओं की तरफ से की गई शिकायत पर मुकदमा दर्ज हुआ है। जबकि भाकियू की तरफ से दी गई शिकायत पर अभी तक कोई एक्शन नहीं लिया गया है। भाकियू के प्रदेश नेतृत्व ने इसे लेकर आंदोलन का ऐलान कर दिया है। राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत में अपनी सभी जिला इकाइयों से आह्वान किया है कि वे अपने-अपने टोल प्लाजा पर पहुंचकर उसको फ्री कराएं और नजदीकी थानों में जाकर विरोध दर्ज कराएं। राकेश टिकैत का कहना है कि भाजपा के काफिले में शामिल उन्हीं के कुछ बाहरी लोगों ने अपनी गाड़ियों में तोड़फोड़ की और अब किसान आंदोलन को बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है।

कई जिलों में टोल प्लाजा फ्री कराए
मेरठ में BKU जिलाध्यक्ष मनोज त्यागी के नेतृत्व में किसानों के एक समूह ने दिल्ली-देहरादून हाईवे पर स्थित सिवाया टोल प्लाजा पर फ्री करा दिया है। मवाना थाने में किसान धरने पर बैठ गए हैं। गाजियाबाद में BKU जिलाध्यक्ष बिजेन्द्र सिंह के नेतृत्व में एसएसपी दफ्तर पर किसानों ने प्रदर्शन किया। कई थानों पर किसान पहुंच रहे हैं। उधर, मुरादाबाद और जेवर में टोल प्लाजा फ्री करा दिए गए हैं। गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों की महत्वपूर्ण बैठक चल रही है, इसमें खुद राकेश टिकैत मौजूद हैं।

खबरें और भी हैं...