पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भाकियू कार्यकर्ताओं का हंगामा:मेरठ में भाकियू कार्यकर्ता को पुलिस ने भेजा जेल तो नेताओं ने थाना घेर लिया, पुलिस 3 दिन का दिया अल्टीमेटम

मेरठ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भाकियू नेताओं ने थाने दिया धरना। - Dainik Bhaskar
भाकियू नेताओं ने थाने दिया धरना।

मेरठ में भाकियू कार्यकर्ता को जानलेवा हमले के मामले में जेल भेजने पर बृहस्पतिवार को भाकियू नेताओं ने जमकर बवाल काटा। दौराला थाने में भाकियू नेताओं ने धरना दे दिया। इंस्पेक्टर दौराला बृजेश सिंह और CO दौराला संजीव कुमार से नोंकझोंक की। भाकियू नेताओं को समझाने पहुंचे SP सिटी को भी धरने पर बैठा लिया।

फर्जी मुकदमे में जेल भेजने पर आक्रोश
दौराला थाना क्षेत्र के शाहपुर जदीद निवासी युवक को फर्जी मुकदमा दर्ज कर जानलेवा हमले के मामले में जेल भेजने पर बृहस्पतिवार को भाकियू कार्यकर्ताओं ने धरना दिया। दौराला थाने पर कार्यकर्ताओं ने एसपी सिटी को ज्ञापन दिया। एसपी सिटी व फोन पर एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने मोबाइल पर बात की। शाहपुर जदीद गांव में 17 अप्रैल को एक झगड़ा हुआ था। जिसमें पुलिस ने फर्जी तरह से 8 लोगों पर जानलेवा हमले का मुकदमा दर्ज किया। पुलिस सत्ता के दबाव में काम कर रही है।

किसानों पर मुकदमे बर्दाश्त नहीं

भाकियू नेता संजय दौरालिया व उज्ज्वल सरूरपुर ने एसपी सिटी से कहा ने कि दौराला पुलिस ने सत्ता के दबाव में आकर शाहपुर जदीद निवासी दीपक समेत कुछ‌ किसानों पर फर्जी मुकदमा दर्ज कर दिया था। पुलिस ने दीपक को जेल भेज दिया था। युवक को जेल भेजे जाने की जानकारी मिलने पर भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के निर्देश पर भाकियू कार्यकर्ता दौराला थाने में धरना देने आए।

एसपी सिटी ने कार्यकर्ताओं को समझाया

कार्यकर्ताओं से वार्ता करने के लिए एसपी सिटी विनीत भटनागर पहुंचे। उन्होंने किसानों को आश्वासन दिया कि इस संबंध में अधिकारियों से वार्ता की जा रही है। पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की जायेगी। इसके बाद कार्यकर्ताओं की एसएसपी प्रभाकर चौधरी से फोन पर वार्ता कराई गई। SSP प्रभाकर चौधरी ने कार्यकर्ताओं को जल्द मामले का निस्तारण करने का आश्वासन दिया। कप्तान के आश्वासन के बाद कार्यकर्ताओं ने धरना समाप्त कर दिया और एसपी सिटी को ज्ञापन सौंपा।

खबरें और भी हैं...