मोदी न होते तो किसान गन्ना बोना छोड़ देते:मेरठ में राज्यसभा सदस्य विजयपाल बोले- साढ़े चार साल में यूपी में बुना एक्सप्रेसवे का जाल, प्रदेश विकास की दौड़ में आगे, अपराधियों, माफियाओं पर लगा अंकुश

मेरठ9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मेरठ के सर्किट हाउस में प्रेसवार्ता करते भाजपा राज्यसभा सांसद विजयपाल सिंह तोमर। - Dainik Bhaskar
मेरठ के सर्किट हाउस में प्रेसवार्ता करते भाजपा राज्यसभा सांसद विजयपाल सिंह तोमर।

उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार के साढ़े चार साल पूरा होने पर सांसद, मंत्रियों ने सरकार के काम गिनाए। मेरठ में राज्यसभा सदस्य विजयपाल सिंह तोमर ने कहा कि साढ़े चार सालों में यूपी के चारों तरफ एक्सप्रेस-वे का जाल बुन गया है। प्रदेश विकास की दौड़ में आगे है। अपराधियों, माफियाओं पर अंकुश है। सर्किट हाउस में मीडिया से वार्ता करते हुए विजयपाल बोले कि जो लोग किसानों के हकों की बात करते हैं उनको बता दें किसानों का बकाया इतना ज्यादा था कि गन्ना बोना बंद कर दिया था। मोदीजी न होते तो आज कोई किसान गन्ना न बोता। मोदीजी, योगीजी ने गन्ने का भुगतान कर किसानों को आगे बढ़ाया है।

लागत से दोगुना मूल्य किसानों को दिया
जो लोग किसान आंदोलन की बात करते हैं वो नहीं जानते कि योगीजी ने लागत से दोगुना भुगतान किया है। बड़े पैमाने पर खरीद की है। इस सत्र के शुरू होने से पहले हर मिल हर हालत में पूरा पेमेंट करेगी, इस पर भी पूरी सख्ती रहेगी। किसान आंदोलन विपक्ष प्रयोजित है। मेरठ में भी चीनी मिलें 86 फीसद भुगतान कर चुकी हैं। केवल यूपी का सीएम ऐसा सीएम है जो कोरोना में अस्पतालों में घूमा।

शहर में काम नहीं हुए, यह सवाल मेयर से पूछें
तोमर ने शहर के विकास पर मेयर पर निशाना साधा। कहा कि मल्टीलेवल पार्किंग, स्मार्ट बस अड्‌डा, सड़कों का काम क्यों नहीं हुआ? ये शहर की बात है। शहर के विकास की बात नगर निगम से पूछें। मेयर बताएं कि शहर का विकास क्यों नहीं हुआ। मेरठ में मेयर सुनीता वर्मा सपा से हैं। आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के अस्पतालों में 30 हजार बेड बनाने की घोषणा की थी, लेकिन 3 भी नहीं लगे तो 300 यूनिट बिजली कैसे फ्री देगी। दिल्ली में जब ऑक्सीजन का ऑडिट हुआ, तो मांग घट गई।

यूपी में इतनी बिजली है कि इन्वर्टर कारोबार बैठ गया तोमर ने कहा कि यूपी में अब 20 घंटे बिजली मिलती है। शहरों में 20 और गांवों में 18 घंटे बिजली आ रही है। यूपी में आज इतनी बिजली है कि इन्वर्टर, डीजल का कारोबार खत्म हो गया। देश में यूपी में सबसे अच्छी बिजली है। सरकार बिजली के लिए कॉरपोरेशन को अनुदान दे रही है। किसानों को सस्ती बिजली देने पर भी सरकार काम कर रही है।

खबरें और भी हैं...