पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

RRTS की यातायात व्यवस्था से उद्यमी नाराज:मेरठ में पीमा अध्यक्ष ने RRTS प्रबंधन को लिखा पत्र, औद्योगिक क्षेत्र में ठीक कराएं यातायात व्यवस्था

मेरठ14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पीमा अध्यक्ष उद्यमी निपुन जैन ने RRTS प्रबंधन को लिखा पत्र, औद्योगिक क्षेत्र में ठीक कराएं यातायात व्यवस्था - Dainik Bhaskar
पीमा अध्यक्ष उद्यमी निपुन जैन ने RRTS प्रबंधन को लिखा पत्र, औद्योगिक क्षेत्र में ठीक कराएं यातायात व्यवस्था

मेरठ में रैपिड और मैट्रो के काम के कारण यातायात व्यवस्था पटरी से उतर चुकी है। दिल्ली रोड पर सुबह से ही जाम लग जाता है। यातायात नियंत्रित करने के लिए RRTSद्वारा की गई व्यवस्था पर उद्यमियों ने नाराजगी जताई है। मेरठ में PIMA (परतापुर इंडस्ट्रियल स्टेट मैनुफेक्चर्स एसोसिएशन ) के अध्यक्ष निपुन जैन ने RRTS को पत्र लिखकर अनियंत्रित यातायात की शिकायत की है। पीमा प्रेसीडेंट का कहना है यातायात नियंत्रण में लगा स्टाफ गंभीर नहीं है। स्टाफ की लापरवाही के कारण कभी भी यहां बड़ा हादसा हो सकता है।

कर्मचारियों की लापरवाही पड़ सकती है भारी
पीमा अध्यक्ष निपुण जैन ने आरआटीएस साइट मैनेजर को शिकायती पत्र में लिखा है कि जो स्टाफ आरआरटीएस ने यहां ट्रैफिक मैनेजमेंट में लगाया है वो गंभीर नहीं है। सारे दिन गार्ड मोबाइल में व्यस्त रहते हैं। ट्रैफिक की ओर जरा भी ध्यान नहीं रहता। अध्यक्ष ने कहा कर्मचारी देर से ड्यूटी पर आते हैं इसके कारण जाम लग जाता है। स्टाफ की लापरवाही बड़े हादसे को दावत देती है। कर्मचारियों के कारण आरआरटीएस का यातायात प्रबंधन प्रयास फेल हो रहा है।

1500 से अधिक फैक्ट्रियों का संचालन
मेरठ के दिल्ली रोड से परतापुर का पूरा इलाका औद्योगिक क्षेत्र हैं। यहां खेल उत्पाद निर्माता इकाईयां, कांच का सामान, इलेक्ट्रानिक आयटम, सीमेंट, रबड, फूड एंड बेवरेज, स्टील उपकरण व वायर निर्माता सहित कई प्रकार की फैक्ट्रियां चलती हैं। केवल परतापुर में 1500 से ज्यादा फैक्ट्रियां संचालित हैं। जहां हर प्रकार के केमिकल, कांच, धातु का सामान लोड-अनलोड होता है। इसके कारण यहां जाम की समस्या बनी रहती है। पीमा सचिव नितिन कपूर का कहना है कि दिल्ली रोड से परतापुर का ये पूरा इलाका बेहद संवेदनशील औद्योगिक क्षेत्र है। यहां माल के कंटेनर, लोडेड ट्रक गुजरते हैं। संवेदनशील सामान भी यहां से गुजरता है। ऐसे में कभी भी यहां बड़ा हादसा हो सकता है।

खबरें और भी हैं...