पूर्व मंत्री याकूब व बेटे की तलाश में दबिश:परिवार के साथ फरार है मीट कारोबारी, गाजियाबाद में एक घंटे तक सीओ व इंस्पेक्टर ने खंगाला मकान

मेरठ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद में याकूब व उसके बेटे भूरा की तलाश में पहुंचे सीओ अरविंद चौरसिया व इंस्पेक्टर उत्तम सिंह राठौर - Dainik Bhaskar
गाजियाबाद में याकूब व उसके बेटे भूरा की तलाश में पहुंचे सीओ अरविंद चौरसिया व इंस्पेक्टर उत्तम सिंह राठौर

पूर्व मंत्री याकूब कुरैशी व उसके बेटे की तलाश में गाजियाबाद में दबिश दी गई है। मेरठ के सीओ कोतवाली अरविंद चौरसिया, लिसाड़ीेगेट इंस्पेक्टर उत्तम सिंह राठौर व कोतवाली पुलिस ने दबिश दी। पुलिस ने गाजियाबाद में एक घंटे तक मकान में छानबीन की। लेकिन वहां याकूब व उसके परिवार का कोई भी सदस्य नहीं मिला।

याकूब समेत पूरे परिवार पर दर्ज है एफआईआर

याकूब कुरैशी इस समय पूरे परिवार के साथ फरार है। मीट प्लांट व अस्पताल सील किये जा चुके हैं। पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी, पूर्व मंत्री की पत्नी संजीदा, पूर्व मंत्री के बेटे हाजी इमरान और हाजी फिरोज व दस अन्य के खिलाफ धारा 269,270,272,275, 120 बी 420 के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है। याकूब और पूरे परिवार के खिलाफ पुलिस गैर जमानती वारंट ले चुकी है। वहीं एमडीए अवैध मीट प्लांट पर नोटिस लगा चुका है।

याकूब के बेटे भूरा की ससुराल में पूछताछ करते पुलिस अधिकारी, एक घंटे तक पुलिस ने यह मकान खंगाला।
याकूब के बेटे भूरा की ससुराल में पूछताछ करते पुलिस अधिकारी, एक घंटे तक पुलिस ने यह मकान खंगाला।

पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी, पूर्व मंत्री की पत्नी संजीदा, पूर्व मंत्री के बेटे हाजी इमरान और हाजी फिरोज व दस अन्य के खिलाफ धारा 269,270,272,275, 120 बी 420 के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई थी। 31 मार्च को ही यह एफआईआर खरखौदा थाने में दर्ज की गई।

31 मार्च को पकड़ा था अवैध मीट

हापुड़ रोड स्थित अलीपुर में पूर्व मंत्री हाजी याकूब की अल फईम मीटेकस प्राइवेट लिमिटेड के नाम से फैक्ट्री है। यह इस समय बंद पड़ी हुई है। पुलिस के अनुसार याकूब की 100 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति है। यदि याकूब व अन्य आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होती है तो पुलिस कोर्ट के आदेश पर कुर्की करेगी। याकूब का मीट प्लांट, घर, अस्पताल के अलावा देहरादून व दिल्ली में भी संपत्ति होने का पुलिस का पता चला है। पुलिस कुर्की का एक सप्ताह पहले नोटिस लगा चुकी है।

सीओ का बयान

सीओ कोतवाली अरविंद चौरसिया ने बताया कि गाजियाबाद के साहिबाबाद में याकूब के बेटे भूरा की ससुराल है। पुलिस को सूचना मिली थी कि याकूब व उसका बेटा भूरा यहां पर छिपे हुए हुए हैं। पुलिस फोर्स के साथ छापा मारा गया लेकिन याकूब हत्थे नहीं चढ़ा।

खबरें और भी हैं...