मेरठ: लॉकडाउन का असर / लोगों ने सुरक्षा घेरे में खड़े होकर सामान खरीदे, दूल्हे को पिता व बहन के साथ जाने की मिली परमीशन

दूल्हे के साथ जा रहे थे 25 बाराती। दूल्हे के साथ जा रहे थे 25 बाराती।
X
दूल्हे के साथ जा रहे थे 25 बाराती।दूल्हे के साथ जा रहे थे 25 बाराती।

  • लॉकडाउन के दौरान मेडिकल स्टोरों पर सबसे अधिक भीड़
  • पुलिस ने बारात वापस की, कहा- भीड़ की जरूरत नहीं है

दैनिक भास्कर

Mar 27, 2020, 01:32 PM IST

मेरठ. लॉकडाउन का असर लोगों की पहले से तय शादी की तारीखों पर भी दिखना शुरू हो गया है। शुक्रवार को दूल्हा शादी की तय तारीख पर अपनी बारात लेकर लकड़ी वालों के यहां जाना चाहता था, लेकिन बारात को लेकर जाने की अनुमति नहीं दी गई। ऐसे में दूल्हे को दो लोगों के साथ ही अपनी दुल्हन लेने के लिए जाना पड़ा।

शामली जा रही थी बारातइ

पुलिस ने गढ़मुक्तेश्वर से शामली जा रही बरात को चेकिंग के दौरान गढ़ रोड स्थित गांधी आश्रम के पास रोक लिया। दूल्हे के साथ मौजूद करीब दो दर्जन बाराती लड़की पक्ष के यहां जाने की जिद पकड़ रहे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें जाने की अनुमति नहीं दी। काफी देर तक गहमागहमी के बाद पुलिस ने दूल्हे के साथ उसके पिता और बहन को जाने की अनुमति दी। बाकी बरात में शामिल 25 लोगों को वापस लौटा दिया। इसके बाद दूल्हा अकेला अपने पिता और बहन के साथ अपनी दुल्हन को लेने के लिए आगे  की ओर रवाना हुआ। एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह ने बताया कि बारातियों को समझाकर लौटा दिया है। सिर्फ दूल्हा और उसकी पिता व बहन को आगे जाने की अनुमति दी है। ऐसा लॉक डाउन के चलते सुरक्षा की दृष्टि से कराया जा रहा है।

निश्चित दूरी पर खड़े हो रहे लोग
लॉकडाउन के तहत शहर में केवल 12 बजे तक ही जरूरी सामान की दुकानें खोलने की छूट है। 12 बजे के बाद स्थानीय पुलिस प्रशासन सड़कों पर बिना वजह घूम रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है। जिला प्रशासन ने लोगों को आश्वासन दिया कि है कि कोई भी परेशान न हो। जरूरत की चीजों की कमी नहीं है। जिला प्रशासन लोगों को घर पर ही राशन उपलब्ध कराए जाने की व्यवस्था करने में जुटा है।

सुरक्षा घेरे में खड़े लोग।

कुछ दवा कारोबारियों ने घर ही दवा उपबल्ध कराने की व्यवस्था की है। शहर के सदर बाजार क्षेत्र में स्थानीय पुलिस ने दुकानदारों को सामाजिक दूरी बनाकर ही सामान देने के लिए कहा है। दुकानदारों ने अपने दुकानों के बाहर एक निश्चित दूरी के घेरे बना दिए हैं, उनके अंदर ही सामान खरीदने आने वालों को खड़ा किया जा रहा है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना