हर घर तिरंगा अमृत महोत्सव मनाने का श्रेष्ठ तरीका:मेरठ पहुंचे राज्यमंत्री असीम अरुण ने वरुण गांधी पर किया कटाक्ष, कहा वो क्या सोचते हैं वो ही जानें

मेरठ6 महीने पहले
मेरठ में चौधरी चरण सिंह विवि में संस्कृत संस्थानम के कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे राज्यमंत्री असीम अरुण

हर घर तिरंगा अभियान के खिलाफ वरुण गांधी के टविट पर राज्यमंत्री असीम अरुण का कहना है कि पूरा देश तिरंगा अभियान मना रहा है। कितना अच्छा लग रहा है। वरुण गांधी क्या सोचते हैं ये तो वो ही बता सकते हैं। बुधवार को मेरठ सीसीएसयू में समारोह में उत्तर प्रदेश सरकार के समाज कल्याण के राज्यमंत्री असीम अरुण भी शामिल हुए। उन्होंने कहा कि सरकार जनता के द्वार जाकर परेशानियां सुलझा रही है।

पार्टी, सरकार लोगों को तिरंगा दे रही है

सीसीएसयू में हर घर तिरंगा अभियान के तहत रेली का आयोजन हुआ। हाथ में तिरंगा लिए सीसीएसयू की कुलपति प्रो. संगीता शुक्ला लाल साड़ी में
सीसीएसयू में हर घर तिरंगा अभियान के तहत रेली का आयोजन हुआ। हाथ में तिरंगा लिए सीसीएसयू की कुलपति प्रो. संगीता शुक्ला लाल साड़ी में

असीम अरुण ने वरुण गांधी के गरीबों का निवाला छीनकर तिरंगा देने के टविट पर कहा कि देश के अंदर प्रधानमंत्री और हम सब मिलकर आजादी का 75 वां अमृत महोत्सव मना रहे हैं। इससे ज्यादा खुशी की बात क्या हो सकती है। हर घर तिरंगा पहुंचाने के लिए सरकार प्रयास कर रही है। जगह-जगह झंडे दिख रहे हैं। जनता बड़े गौरव के साथ पर्व मना रही है। झंडे सरकार और पार्टी दोनों की तरफ से उपलब्ध कराया जा रहा है। जो नहीं ले पा रहे हैं उनको हम दे रहे हैं। वरुण गांधी जो बोल रहे हैं ये तो वही समझा सकते हैं । पूरा देश पार्टी से ऊपर उठकर तिरंगा महोत्सव मना रहा है यह बड़ी बात है।

कानून किसी जाति, धर्म नहीं सबके लिए है
गालीबाज नेता श्रीकांत त्यागी के ऊपर हुए एक्शन से नाराज त्यागी समाज पर मंत्री ने कहा कि जातिवाद को लेकर भाजपा काम नहीं करती सभी पर समान कार्रवाई उत्तर प्रदेश के अंदर होती है। यूपी में बुलडोजर विकास और विनाश दोनों करने के लिए उपयोग होता है। एक्शन किसी जाति, विशेष के लिए नहीं है। कानून का राज स्थापित होना चाहिए वो हो रहा है। जो कानून को तोड़ता है वो कानून तोड़ने वाला अपराधी है। उसकी जाति, धर्म क्या है इससे फरक नहीं पड़ता।

14567 कॉल सेंटर पर बुजुर्ग लें मदद
मंत्री ने कहा कि जनता की मदद के लिए हेल्पलाइन कॉल सेंटर शुरू किया है। बुजुर्गों की पेंशन, आधार कार्ड लिंक न होने संबंधी जो भी परेशानी हो उसके लिए 14567 कॉल सेंटर शुरू किया है। बुजुर्ग इस नंबर पर कॉल करके अपनी परेशानी बता सकते हैं सरकारी कर्मचारी उनके घर जाकर उनका काम कराएंगे। यह भी कहा कि पुलिस की नौकरी मेरठ से ही शुरू हुई। यह मेरे घर जैसा है।