ओपीडी खुलते ही बढ़ा मरीजों का लोड:मेरठ मेडिकल कालेज में बुखार और पेट की बीमारियों के आ रहे सबसे ज्यादा मरीज,7 दिनों में संख्या 700 का आंकड़ा पार गई

मेरठएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मेरठ मेडिकल अस्पताल की ओपीडी में रोज एक से डेढ़ हजार मरीज आते हैं। - Dainik Bhaskar
मेरठ मेडिकल अस्पताल की ओपीडी में रोज एक से डेढ़ हजार मरीज आते हैं।

मेरठ के लाला लाजपत राय मेडिकल कॉलेज में नॉन कोविड ओपीडी शुरू होते ही मरीजों का एकदम से लोड बढ़ रहा है। ओपीडी में रोजाना मरीजों की संख्या बढ़ रही है। सबसे ज्यादा मरीज पेट, आंख और सामान्य बुखार के आ रहे हैं। नॉन सर्जरी मरीज जो कोविड के दौरान ओपीडी बंद होने के कारण इलाज नहीं ले पा रहे थे,ओपीडी शुरू होने पर मेडिकल पहुंच रहे हैं। सामान्य दिनों में मेडिकल अस्पताल की ओपीडी में एक से डेढ़ हजार मरीज आते हैं। महज 7 दिनों में मरीजों की संख्या 700 का आंकड़ा पार गई है।

पीलिया और मौसमी बीमारियों के भी मरीज बढ़े
मेडिकल कॉलेज की ओपीडी में आने वाले मरीजों में इस समय हाथ, पैरों में दर्द, सिरदर्द, नजला, जुकाम, फ्लू, डायरिया, पीलिया और मौसमी बीमारियों के मरीज ज्यादा है। जिन्हें डॉक्टर की सलाह पर दवांए लेनी हैं। कोविड से पहले जिन मरीजों का मेडिकल में नियमित इलाज चल रहा था, लेकिन ओपीडी बंद होने के कारण वो डॉक्टर को दिखा नहीं पाए वो भी अब आकर डॉक्टर की सलाह ले रहे हैं।

दूर से देख रहे डॉक्टर
अस्पतालों में ओपीडी शुरू हो गई है लेकिन चिकित्सक अभी भी मरीजों को दूर से ही देख रहे हैं। निजी चिकित्सकों के क्लीनिक से लेकर सरकारी अस्पतालों में मरीजों को प्लास्टिक शीट के पर्दे के उस पार से देखा जा रहा है। तो कुछ डॉक्टरों ने रस्सी की सीमा रेखा खींच दी है। मरीज को जो परेशानी है वो पूछ लेते हैं उसके अनुसार दवा दे रहे हैं। कुछ निजी चिकित्सकों ने विंडो काउंटर पर जांच केंद्र बनाया है, जहां अपने हाथों को बाहर निकालकर मरीजों को देख रहे हैं मगर उनसे दूरी भी रखी है।

पर्चा बनवाने के लिए काउंटर पर मरीजों की लगी लाइन
पर्चा बनवाने के लिए काउंटर पर मरीजों की लगी लाइन

सामाजिक दूरी और मास्क का पालन जरूरी
मेडिकल कॉलेज प्राचार्य डॉ. ज्ञानेंद्र सिंह के अनुसार जो भी मरीज ओपीडी में आ रहे हैं, उन्हें मास्क लगाना जरूरी है। गेट पर मास्क चैक करने के बाद ही अस्पताल परिसर में प्रवेश मिल रहा है। हर मरीज का तापमान जांचा जा रहा है कोविड हिस्ट्री है तो उसकी जानकारी ले रहे हैं। सामाजिक दूरी का पालन भी करा रहे हैं। हालांकि भीड़ बढ़ने पर लोगों को संभालने में परेशानी होती है।

11 जून- 312 12 जून-360 14 जून-667 15 जून-662 16 जून-700

खबरें और भी हैं...