49 साहित्यकार यूपी में होंगे पुरुस्कृत:लखनऊ के प्रो.ओमप्रकाश पांडेय को विश्वभारती पुरस्कार, उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान ने जारी की विजेताओं की सूची

मेरठएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इस साल संस्कृत संस्थान की तरफ से यूपी सहित अन्य शहरों के कुल 49 विद्वानों को विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कारों से नवाजा जाएगा। - Dainik Bhaskar
इस साल संस्कृत संस्थान की तरफ से यूपी सहित अन्य शहरों के कुल 49 विद्वानों को विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कारों से नवाजा जाएगा।

उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान ने वर्ष-2020 के लिए साहित्य पुरस्कार विजेताओं की लिस्ट जारी कर दी है। संस्कृत साहित्य की सेवा के लिए सबसे प्रमुख विश्वभारती पुरस्कार लखनऊ के प्रो. ओमप्रकाश पांडे को प्रदान किया जाएगा। इस साल संस्थान की तरफ से यूपी सहित अन्य शहरों के कुल 49 विद्वानों को विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कारों से नवाजा जाएगा। विजेताओं को 5 लाख रुपए से लेकर 11 हजार रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा।

साहित्य पुरस्कार के लिए लखनऊ, गाजियाबाद, वाराणसी, नागपुर, जौनपुर, कुशीनगर, मुजफफरनगर, चित्रकूट, बाराबंकी, नागपुर, नई दिल्ली, नासिक, जोधपुर के विद्वानों का चयन हुआ है।

जिलेवार इन विद्वानों को मिलेगा ये पुरस्कार

प्रो. ओमप्रकाश पांडे लखनऊ विश्वभारती पुरस्कार, डॉ. बिशनलाल गौड़ गाजियाबाद महर्षि वाल्मीकि पुरस्कार, डॉ. कमला पांडे वाराणसी महर्षि व्यास पुरस्कार, डॉ. चंद्रगुप्त श्रीधरवर्णकर नागपुर महर्षि नारद पुरस्कार, डॉ. ददन उपाध्याय वाराणसी सहित प्रो. सत्यप्रकाश दुबे जौनपुर, डॉ. जयप्रकाश नारायण द्विवेदी कुशीनगर, डॉ. रघुवीर वेदालंकार मुजफ्फरनगर, डॉ. कमलेश कुमार जैन वाराणसी को विशिष्ट पुरस्कार के लिए चुना गया है।

इसी तरह वेदपंडित पुरस्कार सुशील कुमार दुबे मिर्जापुर, वेदमूर्ति श्री रविंद्र पेथाणे वेदपंडित पुरस्कार, सुरेंद्र कुमार तिवारी चित्रकूट, पवन मिश्र मिर्जापुर, विवेक कुमार मिश्र कुशीनगर, ए श्रीधरन नई दिल्ली, शिवम कुमार शुक्ला बाराबंकी, रोहित कुमार मिश्र वाराणसी, सुरेश शर्मा जोधपुर को मिलेगा।

खबरें और भी हैं...