मेरठ में कोरोना से 2 मौतें 1202 नए मरीज मिले:एक्टिव केस की संख्या बढ़कर हुई 7223, चुनाव नजदीक आते ही बढ़ रही संक्रमण दर

मेरठ3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मेरठ में शुक्रवार रात आई कोरोना की रिपोर्ट में 1202 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। दूसरी लहर के मुकाबले कोरोना की तीसरी लहर में संक्रमण काफी तेजी से फैल रहा है। पिछले 22 माह में एक दिन में मेरठ में अब तक के सबसे अधिक मरीज मिले हैं। वहीं शुक्रवार को मेरठ में कोरोना से 2 मौतें और हो गईं।

स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन कोरोना की चेन तोड़ने में नाकाम होने लगा है। विधानसभा चुनाव से पहले ही कोरोना के फैलने की रफ्तार ने स्वास्थ्य विभाग की नींद उड़ा दी है। पिछले तीन दिन में कोरोना के जिले में तीन हजार मरीज मिल चुके हैं। डॉक्टर, सैन्यकर्मी, पुलिसकर्मी, दंपती, छात्र, महिलाएं, किशोर, वृद्ध, पुलिसकर्मी, इंजीनियर सभी विभागों के लोग कोरोना से संक्रमित मिले हैं।

हर रोज हो रही मौत एक्टिव केस 7223

मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डॉक्टर अशोक तालियान ने बताया कि अब जिले में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 7223है। जिले में अभी तक तीसरी लहर में 9 लोगों की मौत हो चुकी है। मेरठ में 7482 लोगों के सैंपल बृहस्पतिवार को जांच के लिए टेस्ट किए गए। 26 लोगों को अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। 7197लोग अपने घर पर ही होम आइसोलेशन में हैं। एक्टिव केस 7223पहुंच गए हैं। 229 लोग स्वस्थ्य होकर घर भेजे गए।

हर घर में बुखार का मरीज
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार कंकरखेड़ा निवासी 40 साल के सैन्यकर्मी भी कोरोना पॅाजिटिव निकले हैं। पिछले तीन दिन से बुखार के चलते कोरोना का टेस्ट कराया था। बेसिक शिक्षा विभाग के तीन शिक्षक और दो शिक्षिकाएं भी संक्रमित मिली हैं। गंगानगर में एक निजी शिक्षण संस्थान के प्रोफेसर भी पॉजिटिव मिले हैं। जागृति विहार, गढ़ रोड, गंगानगर, कंकरखेड़ा, पल्लवपुरम, लिसाड़ीगेट, कोतवाली, टीपीनगर के अलावा देहात में मवाना, किठौर, सरधना, खरखौदा के लोग भी संक्रमित मिले हैं। गंगानगर के 80 साल के वृद्ध व 13 साल का बच्चा भी संक्रमित मिला है। तीन डॉक्टर भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

खबरें और भी हैं...