UP में असली 'खेल' को मिला बढ़ावा:मेरठ में बोले PM मोदी- पिछली सरकार में अपराधी खेल खेलते थे, आज योगी माफिया के साथ जेल-जेल खेल रहे

मेरठ7 महीने पहले
पीएम मोदी ने मेरठ के सलावा में जनसभा को संबोधित किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को मेरठ पहुंचे। सलावा में उन्होंने UP की पहली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का शिलान्यास किया। पीएम मोदी ने कहा, 'यहां से हर साल 1000 से अधिक बेटे-बेटियां खिलाड़ी बनकर निकलेंगी। क्रांतिवीरों की नगरी खेल नगरी बनेगी। पहले की सरकारों में यूपी में अपराधी अपना खेल खेलते थे। पहले यहां अवैध कब्जे के टूर्नामेंट होते थे। बेटियों पर फब्तियां कसने वाले खुलेआम घूमते थे। पहले की सरकार अपने खेल में लगी रहती थी। इसी का नतीजा था कि लोग पलायन को मजबूर हो गए थे। अब योगी की सरकार ऐसे अपराधियों के साथ जेल-जेल खेल रही है।'

जिधर युवा चलेगा-उधर भारत चलेगा

मोदी ने कहा, 'हम 21वीं सदी में हैं। नए भारत में सबसे बड़ा दायित्व युवाओं पर है। युवा नए भारत का नेता और नेतृत्व करने वाला है। जिधर युवा चलेगा-उधर भारत चलेगा। जिधर भारत चलेगा, उधर ही दुनिया चलने वाली है। आज साइंस से साहित्य तक हर तरफ युवा ही छाए हैं। खिलाड़ियों के सामर्थ्य को बढ़ाने के लिए भाजपा सरकार ने चार शस्त्र दिए हैं। संसाधन, ट्रेनिंग की आधुनिक सुविधा, अंतरराष्ट्रीय एक्सपोजर, चयन में परदर्शिता। युवाओं में खेल को लेकर विश्वास पैदा हो, खेल को प्रोफेशनल बनाने का हौसला बढ़े। यही मेरा संकल्प और सपना है'।

पीएम मोदी ने खिलाड़ियों से बात करने के बाद एक्सरसाइज भी की।
पीएम मोदी ने खिलाड़ियों से बात करने के बाद एक्सरसाइज भी की।

PM की बड़ी बातें -

  • पहले बेटियां घर से निकलने में डरती थीं। आज मेरठ की बेटियां खेल में अपना परचम लहरा रहीं, नाम रोशन कर रही हैं।
  • पिछली सरकार ने यूपी के किसानों को गन्ना के मूल्यों के भुगतान से तरसा दिया।
  • मेरठ के सोतीगंज बाजार में चोरी की गाड़ियों के साथ खेल होते थे। इस खेल का भी योगी सरकार में The End हो रहा है।
  • अब यूपी एथनॉल के उत्पादन में अव्वल बन रहा है, 12 हजार करोड़ रुपए का एथेनॉल अकेले यूपी से खरीदा गया है।
  • अब UP में असली खेल को बढ़ावा मिल रहा है। युवाओं को खेल की दुनिया में छा जाने का मौका सरकार दे रही है।
  • अब क्रांतिवीरों की नगरी, खेल वीरों की नगरी के रूप में भी एक नई पहचान स्थापित करेगी।
  • सिंधु घाटी के सभ्यता से लेकर देश के पहले स्वतंत्रता संग्राम तक इस क्षेत्र ने दुनिया को दिखाया कि भारत का सामर्थ्य क्या होता है।

सड़क मार्ग से मेरठ पहुंचकर दिया संदेश- दिल्ली अब दूर नहीं
पीएम ने मेरठ में काली पलटन मंदिर में पूजा की। यह मंदिर कैंट एरिया में है। पीएम दिल्ली से ही सड़क मार्ग होते हुए एक्सप्रेस-वे से मेरठ पहुंचे। शहीद स्मारक में अमर जवान ज्योति पर शहीदों को नमन किया। मंगल पांडे की प्रतिमा पर पीएम मोदी ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। राजकीय संग्रहालय में इतिहास के पन्नों का अवलोकन किया। यहां 1857 क्रांति से जुड़ा पश्चिमी यूपी का इतिहास मौजूद है।

मंगल पांडे की प्रतिमा पर पीएम मोदी ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।
मंगल पांडे की प्रतिमा पर पीएम मोदी ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

खराब विजिबिलिटी से उड़ान में दिक्कत
दिल्ली एयरपोर्ट पर खराब विजिबिलिटी की वजह से हेलिकॉप्टर उड़ान नही भर सका। इसके बाद पीएम दिल्ली से एक्सप्रेस-वे के रास्ते मेरठ पहुंचे। मोदी ने देश को यह संदेश दिया कि मेरठ से दिल्ली अब दूर नहीं है, सिर्फ 40 मिनट में पहुंचा जा सकता है।

पीएम मोदी और सीएम योगी ने काली पलटन मंदिर में पूजा की।
पीएम मोदी और सीएम योगी ने काली पलटन मंदिर में पूजा की।

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने सोशल मीडिया पर साधा निशाना

अखिलेश यादव ने भाजपा को यूपी की खेल संस्कृति और सुविधाएं बर्बाद करने वाला करार दे दिया। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए योगी सरकार की कड़ी आलोचना की। उन्होंने कहा कि भाजपा का असली चेहरा सामने आ गया है। जनता 2022 में जवाब देगी।

PM मोदी ने सलावा में मेजर ध्यानचंद स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का शिलान्यास किया। लगभग 700 करोड़ रुपए से यूनिवर्सिटी तैयार होगी। यह यूपी की पहली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी होगी। देशभर के 25 हजार खिलाड़ियों समेत कार्यक्रम में 50 हजार से अधिक की भीड़ जुटी। प्रधानमंत्री ने 32 खिलाड़ियों से संवाद भी किया।

यूनिवर्सिटी में होंगी ये सुविधाएं

मेजर ध्यानचंद स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी में फुटबॉल ग्राउंड, बास्केटबॉल, वॉलीबॉल, हैंडबॉल, कबड्डी का मैदान, मेजर ध्यानचंद स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी में सिंथेटिक हॉकी ग्राउंड, लॉन टेनिस कोर्ट, जिमनेजियम हॉल, सिंथेटिक रनिंग ट्रैक, स्विमिंग पूल, और एक साइक्लिंग वेलोड्रोम समेत अत्याधुनिक खेल सुविधाएं होंगी। इसके अलावा एक हॉल होगा, जिसमें निशानेबाजी, स्क्वैश, जिम्नास्टिक, तीरंदाजी, कैनोइंग समेत अन्य सुविधाएं भी होंगी. यूनिवर्सिटी में 540 महिला और 540 पुरुष खिलाड़ियों समेत कुल 1,080 खिलाड़ी एक साथ प्रशिक्षण ले सकेंगे।