मिशन शक्ति के तहत बेटियों को किया जागरूक:मेरठ में सेव दी गर्ल चाइल्ड विषय पर हुआ कार्यक्रम, कुपोषण को लेकर भी छात्राओं को दी जानकारी

मेरठ6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यक्रम में मौजूद बालिकाएं - Dainik Bhaskar
कार्यक्रम में मौजूद बालिकाएं

मिशन शक्ति के तहत बुधवार को कैंट स्थित भारतीय गर्ल्स इंटर कॉलेज मेरठ कैंट में कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में पर्यावरण एवं स्वच्छता क्लब द्वारा व मिशन शक्ति से जुड़े पदाधिकारियों ने छात्राओं को जागरूक किया। कार्यक्रम में सेव दी गर्ल चाइल्ड विषय पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें बालिकाओं को कुपोषण व अन्य बीमारियों से बचाव के साथ ही उन्हें मिशन शक्ति के तहत जागरूक किया।

लड़कियां मानसिक रूप से मजबूत बनें
क्लब निदेशक आयुष गोयल व पीयूष गोयल ने बताया बेटियां पर घर परिवार की जिम्मेदारी अधिक है। आज मौजद समय में लड़कियां पढ़ाई में बेटों से ज्यादा आगे हैं। ऐस में बेटियों को घर परिवार के कामकाज में भी भागेदारी निभानी पड़ रही है। स्त्री रोग की विशेषज्ञ डॉक्टर सरिता त्यागी ने बताया कि छात्राओं को शारीरिक और मानसिक रूप से सशक्त बनाने के लिए परिवार के अन्य सदस्यों को भी आगे आना होगा। आज भी लड़की कुपोषण का शिकार हो जाती हैं। बेटियों को संतुलित आहर ग्रहण करना चाहिए, उनको अपनी डाइट में दूध फल मिलेट्स और ड्राई फ्रूट्स शामिल करना चाहिए।

ढाई में निकल रहीं आगे
समाजसेवी विपुल सिंघल ने बताया कि बेटियां किसी से कम नहीं है, बेटियों को अपनी ताकत पहचानने की आवश्यकता है। पढ़ाई में बेटी आगे निकल रही हैं। परिवार की भी यह जिम्मेदारी बनती है की पढ़ाई में बेटी ओर बेटों के साथ समान व्यवहार करें। जिस कॉलेज में बेटा पढ़ाया जा रहा है उसी कॉलेज में बेटी को भी पढ़ाया जाना चाहिए। लड़कियों पर घर का बोझ डाल दिया जाता है जिससे लड़कियों की शिक्षा प्रभावित होती है। कार्यक्रम में लक्ष्मी शर्मा, मीनाक्षी सिंह, प्रधानाचार्य डॉ अंजलि प्रकाश, विभा, प्रीतम, छाया, प्रीति, रजनी, रेणुका रहीं।

खबरें और भी हैं...