यूपी BJP के पूर्व अध्यक्ष का गुस्सा:स्कूटी पर बैठकर मेरठ में MDA ऑफिस पहुंचे, कहा- काम नहीं करोगे तो यहीं बैठा रहूंगा

मेरठ5 महीने पहले

यूपी भाजपा के पूर्व अध्यक्ष डॉ. लक्ष्मीकांत बाजपेयी सोमवार को स्कूटी से ही मेरठ विकास प्राधिकरण (MDA) पहुंच गए। वहां पहुंचते ही उन्होंने गुस्से में अफसरों को फटकार लगाई। कहा, "एक फाइल को 7 महीने से लटकाए हो। मेरी सरकार को बदनाम कर रहे हो। आज या तो फाइल पूरी होगी या फिर मैं यहीं पर बैठा रहूंगा।"

दरअसल, राज्यसभा सांसद डॉ. बाजपेयी जिस फाइल की जिक्र कर रहे थे। वह बागपत रोड को रेलवे रोड से जोड़ने के लिंक मार्ग निर्माण से जुड़ी हुई थी। इस रास्ते के निर्माण में रक्षा मंत्रालय भी शामिल है। ऐसे में एमडीए अफसरों को इस फाइल को साइट पर अपलोड करनी है। तभी इसका प्रोसेस आगे बढ़ेगा।

बाजपेयी अभियंता के दफ्तर में अड़ गए
बाजपेयी एमडीए ऑफिस में सीधे अधिशासी अभियंता अतुल कुमार के केबिन में पहुंचे। उन्होंने बागपत रोड से रेलवे रोड को जोड़ने वाली लिंक मार्ग की फाइल मांगी। पूछा, ''उस पर क्या काम हुआ है? उनके इस सवाल पर अफसरों ने चुप्पी साध ली।

बाजपेयी अभियंता के दफ्तर में अड़ गए। कहा, "मैं आज यहां से कहीं नहीं जा रहा। यहीं बैठा हूं, चाहे जितनी देर लगे। लेकिन, प्रस्ताव को साइट पर अपलोड कराना ही है। या तो आज फाइल साइट पर अपलोड होगी या फिर आपका वीसी मेरे खिलाफ FIR कराएगा। मैं यहीं बैठा हूं आज।"

उन्होंने आगे कहा, "मेरा काम जनता की लड़ाई लड़ने का है। मैं करूंगा। ये लोग मेरी सरकार को बदनाम करना चाहते हैं। अफसर देख लें जनता से जुड़ा जो भी काम है। दो दिन में पूरा होना है। उसे दो दिन में पूरा कर दें, तीन दिन या चार दिनों में नहीं।"

मेरठ विकास प्राधिकरण कार्यालय में स्कूटी से जाते हुए लक्ष्मीकांत बाजपेयी।
मेरठ विकास प्राधिकरण कार्यालय में स्कूटी से जाते हुए लक्ष्मीकांत बाजपेयी।

बाजपेयी ने कहा- कागज अपलोड करो मेरे कार्यकर्ता आज यही देखेंगे
बाजपेयी ने अफसरों से कहा, "आज मेरा कार्यकर्ता इसी एमडीए अफसर में शाम तक रहेगा। जब तक प्रस्ताव साइट पर अपलोड नहीं हो जाता। जिससे बात करना हो एमडीए कर्मचारी बात करके आज ऑनलाइन आवेदन शाम तक कर दें, मैं फिर इसे चेक करुंगा।"