पैरालिंपिक में 8वें स्थान पर रहे यूपी के अजीत:2017 में दोस्त की जान बचाने में गंवा दिए थे हाथ, परिवार के सदस्य बोले- जीत-हार तो लगी रहती है, परफॉर्मेंस उसका बेस्ट रहा

मेरठ/ इटावा2 महीने पहले
टोक्यो में अजीत ने भाला फेंक प्रतिस्पर्धा में आठवां स्थान हासिल किया

टोक्यो पैरालिंपिक में पुरुष भाला फेंक प्रतिस्पर्धा में उत्तर प्रदेश, इटावा के खिलाड़ी अजीत सिंह यादव पदक से चूक गए। बेस्ट करने के बाद भी अजीत प्रतियोगिता में 8वें स्थान पर रहे। परिवार दो दिनों से अजीत की जीत की प्रार्थना कर रहा था। पदक न मिलने के बाद भी अजीत का परिवार खुश है। उनका कहना है कि जीत-हार तो लगी रहती है। खुशी इस बात की है कि उसने प्रतियोगिता में अपना बेस्ट परफॉर्मेंस दिया।

अजीत ने 56.15 मीटर तक भाला फेंका मगर पदक से रह गए दूर
अजीत ने 56.15 मीटर तक भाला फेंका मगर पदक से रह गए दूर

टोक्यो में सुबह पुरुषों की भाला फेक प्रतियोगिता हुई। भारत के देवेंद्र झाझरिया, एस गुर्जर और अजीत सिंह यादव ने मुकाबले में भाग लिया। विश्वस्तरीय खिलाड़ियों को हराते हुए भारतीय जैवलिन थ्रोअर देवेंद्र झाझरिया को सिल्वर, एस गुर्जर ने ब्रांज मेडल पर कब्जा किया। यूपी के एथलीट अजीत यादव आठवें नंबर पर रहे।

अजीत बेशक पदक न जीत सके मगर पक्की दोस्ती का स्वर्ण पदक अजीत बहुत पहले जीत चुके हैं। दोस्त को बचाने की खातिर ट्रेन दुघर्टना में हाथ गंवाने वाले अजीत आज अंतराष्ट्रीय स्तर के जैवलिन खिलाड़ी हैं।

दोस्त को बचा लिया हाथ न बचा सका
यूपी इटावा के भरधना इलाके में नगलाविधी साम्हो गांव के अजीत ने एक ट्रेन दुघर्टना में अपना बांया हाथ गंवा दिया। इटावा के किसान परिवार से ताल्लुक रखने वाले अजीत देश को भाला फेंक में कई पदक दिलवा चुके हैं। एफ- 46 कैटेगरी के खिलाड़ी हैं। दुबई में फैजा पेरा एथलेटिक्स ग्रैंड प्रिक्स में स्वर्ण पदक विजेता हैं। अजीत के चाचा नीरज बताते हैं कि 2017 में रेल दुघर्टना में दोस्त को बचाते हुए अजीत अपना हाथ खो बैठा।

दुघर्टना के बाद अजीत ने खेलना जारी रखा
दुर्घटना के करीब चार माह बाद अजीत ने पंचकूला में आयोजित पैरा एथलेटिक सीनियर नेशनल में भी सफलता पाई थी। शारीरिक शिक्षा एवं खेल में पीएचडी कर रहे अजीत यादव को टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम के तहत भारत सरकार के खेल प्राधिकरण में भी शामिल किया जा चुका है। बीजिंग में हुए विश्व पैरा एथलेटिक्स ग्रैंड प्रिक्स में स्वर्ण पदक जीता। 2019 में विश्व पैरा एथलेक्टिस चैंपियनशिप दुबई में कांस्य पदक जीता था

पैरालिंपिक पुरुष भाला फेंक में भारत को 2 पदक
टोक्यो पैरालिंपिक में सोमवार का दिन सुबह से भारत के लिए लकी रहा। निशानेबाजी में अवनि के स्वर्ण पदक के बाद पुरुषों की भाला फेंक प्रतियोगिता में देवेंद्र झाझरिया ने 64.35 मीटर थ्रो करते हुए सिल्वर मेडल जीता। सुंदर सिंह गुर्जर ने 64.07 मीटर भाला फेंककर कांस्य पर कब्जा किया। वहीं उत्तर प्रदेश इटावा के खिलाड़ी अजीत सिंह यादव प्रतिस्पर्धा में आठवें स्थान पर रहे। अजीत ने 56.15 मीटर थ्रो करते हुए 8वां स्थान लिया है।

खबरें और भी हैं...