वेस्ट UP की मिलों में आज से पेराई:शुगर मिलों ने जारी किया इनडैंट, बारिश ने 10 दिन लेट कर दिया पेराई का काम

मेरठएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वेस्ट यूपी की चीनी मिलों में आज से पेराई शुरू होने जा रही है। 6 महीने बाद गन्ना मिल चलने से किसानों में भी खुशी है। इस बार यूपी सरकार ने गन्ने का रेट 25 रुपए क्विंटल बढ़ाया है। मिलों की तरफ से गन्ने की तौल के लिए इनडैंट (माल की फरमाइश) भी जारी कर दी गई है। चीनी मिलों में गन्ना पेराई 10 दिन लेट हुई है। पहले शासन ने 20 अक्टूबर को पेराई सत्र शुरू कराने के लिए कहा था। लेकिन बारिश होने के बाद ऐसा नहीं हो सका।

गन्ने की फसल से होगा किसानों को फायदा

  • पूरे यूपी में 114 गन्ना मिल हैं।
  • वेस्ट यूपी के मेरठ, सहारनपुर, मुरादाबाद व बरेली में गन्ने की पैदावार अधिक है।
  • यूपी में 90 प्रतिशत गन्ना अगेती किस्म का है।
  • किसानों को मिल से 350 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से भुगतान किया जाएगा।

गेहूं की बुवाई के लिए तैयारी में हैं किसान
19 अक्टूबर की बेमौसम बारिश ने वेस्ट यूपी में धान की फसल को सबसे अधिक नुकसान पहुंचाया। सरसों और आलू की फसल की बुवाई भी प्रभावित हुई। अब मिल चलने से नवंबर और दिसंबर में गेहूं की फसल की बुवाई के लिए खेत खाली हो सकेंगे।

चीनी मिल ले जाने से पहले किसान के खेत में खड़ी गन्ने की ट्राली।
चीनी मिल ले जाने से पहले किसान के खेत में खड़ी गन्ने की ट्राली।

आज से इन मिलों में शुरू हो रही है गन्ने की पेराई
मेरठ के उप गन्ना आयुक्त ने बताया कि मेरठ की सकौती, किनौनी, बागपत, रमाला, बुलंदशहर की अनूपशहर चीनी मिल 7 नवंबर को पेराई शुरू कर देंगी। इनके अलावा मेरठ की नंगलामल, मवाना मोहिउदृीनपुर, बुलंदशहर की अनामिका व अन्य मिल 8 नवंबर को पेराई शुरू करेंगी। मेरठ मंडल की दौराला मिल सिर्फ 10 नवंबर को पेराई शुरू करेगी।

सबसे ज्यादा मुरादाबाद मंडल में चीनी मिल

  • मेरठ मंडल में 17
  • मुरादाबाद मंडल में 24
  • बरेली मंडल में 17
  • सहारनपुर मंडल में 17
  • अलीगढ़ में 01