दवाई लेने के बदले महिला को मेरठ में मिली मौत:100 की स्पीड पर ट्रक ने मेरठ- करनाल हाईवे पर गर्भवती महिला को कुचला, पति ने हाथ गंवाया

मेरठ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मेरठ सड़क हादसे में गर्भवती महिला की मौत। - Dainik Bhaskar
मेरठ सड़क हादसे में गर्भवती महिला की मौत।

मेरठ करनाल हाईवे पर शनिवार सुबह तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सवार दंपति को कुचल दिया। गर्भवती महिला की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं बाइक चला रहा महिला का पति गंभीर रूप से घायल हो गया। यह हादसा कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र में ड्रीम सिटी कॉलोनी के पास हुआ। घायल खून से तड़पते रहे और भीड़ दस मिनट तक तमाशबीन बनी रही। महिला के शव को देखकर लोगों की रूह तक कांप गई। महिला की दो साल पहले ही शादी शादी हुई थी। गर्भवती महिला मेरठ में दवाई लेने आ रही थी, जहां उसे मौत मिली।

2 साल पहले हुई थी शादी

मेरठ के सरधना थाना क्षेत्र के ईकड़ी गांव निवासी किरन (26 साल) की शादी 2 साल पहले मुजफ्फरनगर के बावलो निवासी नितिन पुत्र दीपचंद के साथ हुई थी। शनिवार सुबह महिला अपने पति के नितिन के साथ अपने मायके से मेरठ के कंकरखेड़ा में दवाई लेने आ रही थी। बाइक महिला का पति नितिन बाइक चला रहा था।

जैसे ही वह ड्रीम सिटी के पास पहुंचे तभी पीछे से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक को चपेट में ले लिया। ट्रक की स्पीड इतनी तेज थी की दंपति बाइक से गिर गये। करीब 20 मीटर तक महिला घिसटती रही। बाद में ट्रक के पहिये ने महिला को कुचल दिया। वहीं नितिन का एक हाथ भी कुचला गया।

100 की स्पीड पर बताया ट्रक

आसपास के लोगों ने पुलिस को बताया कि ट्रक की स्पीड बहुत तेज थी। हाईवे पर ट्रक 100 की सपीड से अधिक तेज रहा होगा। महिला सड़क पर पहिये के पास खून से लथपथ हालत में पड़ी रही। वही महिला का पति भी पास में खून से लथपथ हालत में था। महिला के पति नितिन का एक हाथ कुचला गया। आसपास के लाेग खड़े देखते रहे।

घटना के बाद आरोपी चालक ट्रक छोड़कर भाग निकला। सूचना पर कंकरखेड़ा पु़लिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। कंकरखेड़ा पुलिस ने ट्रक को कब्जे में ले लिया है। महिला चार माह की गर्भवती बताई गई। महिला का मेरठ के कंकरखेड़ा में एक डॉक्टर के यहां इलाज चल रहा था।

परिवार का रो-रोकर बुरा हाल

महिला की मौत के बाद परिवार का रोकर बुरा हाल है। महिला के भाई आदेश ने बताया की सुबह बहन कह रही थी की आराम से चलेंगे। डॉक्टर के यहां जल्दी नंबर आ जाएगा। लेकिन यह नहीं पता था की बहन की मौत की खबर मिलेगी। महिला पिछले 25 दिन से अपने मायके में ही रह रही थी।