मेरठ में कोरोना से 2 बुजुर्गों की मौत:बेकाबू हुआ कोरोना 3 दिन में 3 लोगों की मौत, 405 नए, 1038 एक्टिव केस

मेरठ13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मेरठ में कोरोना का नया वायरस तेजी से लोगों पर हावी हो रहा है। शुक्रवार को जिले में कोरोना से 2 और मौतें हो गईं। पिछले 3 दिनों में जिले में कोरोना से यह तीसरी मौत है। तीनों मौतें बुजुर्गों की है। वहीं शुक्रवार को देर रात आई रिपोर्ट में जिले में कोरोना बम फूटा है। एक दिन में 405 नए पॉजिटिव केस मिले हैं, कुल एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 1038 हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग ने आईएमए, नर्सिंग होम एसोसिएशन और अन्य के साथ मिलकर कोरोना से निपटने की तैयारी की है। 6 महीने बाद जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 400 से ज्यादा हुई है।

5.7 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा संक्रमण
मेरठ में कोरोना संक्रमण 5.7 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शनिवार को कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़कर 600 तक जा सकती है। 7 दिनों में कोरोना मरीजों की संख्या 50 से 400 पार हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग ने सभी विभागों के साथ आपात बैठक की है। शुक्रवार को 6992 सैम्पलों की जांच हुई, जिसमें 405 में वायरस मिला। संक्रमण दर 5.7 प्रतिशत पार गयी है। 19 मरीजों को भर्ती किया गया। 1019 मरीज होम आइसोलेशन में इलाज ले रहे हैं, जबकि सक्रिय मरीजों की संख्या 1078 हो गयी है।

मेडिकल अस्पताल और रैन बसेरे में कोरोना से मौत
पिछले 3 दिनों में कोरोना से 3 मौतें हो चुकी हैं। बृहस्पतिवार को सुभारती अस्पताल में भर्ती कपड़ कारोबारी की मौत हुई। कपड़ा कारोबारी हायपर टेंशन और मधुमेह पीड़ित था। जांच में कोविड पॉजिटिव आया था। इलाज के लिए सुभारती अस्पताल में भर्ती हुआ और भर्ती होने के दूसरे दिन ही इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई। शुक्रवार को भी 2 कोरोना मरीजों की मौत हो गई। इसमें 71 साल के एक मरीज हार्ट का इलाज कराने के लिए निजी अस्पताल में भर्ती थे, जहां से कोविड पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद उन्हें मेडिकल कालेज भेजा गया शुक्रवार को मौत हो गई। कोरोना से दूसरी मौत घंटाघर के रैन बसेरे में रहने वाले एक व्यक्ति की हुई, जो सीओपीडी का मरीज भी था।

मेरठ में कोरोना से इलाज की व्यवस्था
29 निजी अस्पताल, 3 मेडिकल कालेज
3479 कुल कोविड बेड
1171 ऑक्सीजन बेड
712 आईसीयू बेड
246 वेंटीलेटर
30 ऑक्सीजन प्लांट

खबरें और भी हैं...