टमाटर 65 और धनिया 280 रुपए किलो:बारिश से महंगी हुई सब्जी, मूली के दाम 50 रुपए किलो पर पहुंचे

मेरठ15 दिन पहले
मेरठ के बक्सर में रविवार सुबह सब्जी खरीदते ग्राहक

त्योहारों का सीजन चल रहा है। श्राद्ध आधे बीत चुके हैं। पहले से महंगाई की मार झेल रही सब्जियों पर अब बारिश की मार पड़ी है। बारिश से सब्जियां और भी महंगी हो गई। टमाटर पर 20 रुपए का उछाल आया है। वेस्ट यूपी में सबसे ज्यादा सब्जी का उत्पादन करने वाले मेरठ और हापुड़ जिले में भी इस बार सब्जी की मार पड़ रही है। बारिश के बाद धनिया मंडियो में भी न के बराबर पहुंच रहा है।

बारिश से महंगी हुई सब्जी

श्राद्ध चल रहे हैं जहां टमाटर और गोभी की अधिक मांग है।
श्राद्ध चल रहे हैं जहां टमाटर और गोभी की अधिक मांग है।

मेरठ में सब्जी के विक्रेता आसू ने बताया कि आसपास के जिलों में मेरठ में सब्जी का उत्पान अधिक होता है। मेरठ से सब्जी गाजियाबाद, नोएडा और दिल्ली तक भी जाती है। दो दिन की बारिश से सब्जियों के दाम में उछाल आया है। टमाटर 45 और 50 रुपए किग्रा चल रहा था। अब टमाटर के दाम अचानक से 65 रुपए तक पहुंच गया है। श्राद्ध पक्ष के बाद नवरात्र में भी सब्जी के दाम और भी अधिक बढ़ेंगे।

हरा धनिया सबसे अधिक महंगा

महंगा होते ही धनिया भी गायब हुआ।
महंगा होते ही धनिया भी गायब हुआ।

मेरठ में रविवार के सब्जी के भाव की बात करें तो धनिया 180 रुपये से बढ़कर 280 रुपए किलो पहुंच गया। धनिया को बारिश में नुकसान पहुंचता है। कई बार बारिश में गल भी जाता है।मेरठ में इस समय लौकी के दाम 40 रुपए किग्रा चल रहे हैं। तोरई के दाम भी 40 रुपए किग्रा है। जबकि करेला के दाम 60 रुपए प्रति किग्रा हैं। गोभी का यह मौसम नही है, लेकिन इस समय गौभी 80 रुपए किग्रा तक चल रही है। हरा धनिया की इस समय मंडियों में कमी है। हरी मिर्च और धनिए की फसल पर संकट रहा है। जिसके कारण इन दोनों सब्जियों की कमताई है।

नवरात्र में और भी बढ़ेंगे दाम
अगले सप्ताह नवरात्र शुरु होने के बाद सब्जी महंगी होगी। जिसके बाद नवरात्रों में फल और सब्जियों के दाम और भी महंगे होने बताए जा रहे हैं। अक्टूबर में गाजर, गोभी और शलजम, मूली आने के बाद हरी सब्जियों की भरमार रहेगी। सब्जियों के महंगे दामों का मुख्य कारण स्थानीय और बाहरी क्षेत्र में मंडियों में हरी सब्जियों की कमी बताई है। टमाटर के साथ मूली भी महंगी हुई है।

यह हैं सब्जियों के दाम
टमाटर 65 रुपए किलो, गोभी 80 रुपए किलो, बैंगन 50 रुपए किलो, हरी मिर्च 100 रुपए किलो, भिंडी 50 रुपए किलो, लौकी 40 रुपए किलो, प्याज 35 रुपए किलो, अदरक 80 रुपए किलो, धनिया 280 रुपए, आलू 28 रुपये किग्रा, नींबू 120 रुपये किग्रा है। मूली के दाम 50 रुपए किलो पहुंच गये।