बिजनौर में वन दरोगा पर जंगली हाथी ने हमला किया:वाहन छोड़ भागकर दरोगा ने बचाई जान, गुस्साए हाथी ने तोड़ दी बाइक

बिजनौर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पेट्रोलिंग कर रहे वन दरोगा पर जंगली हाथी ने किया हमला - Dainik Bhaskar
पेट्रोलिंग कर रहे वन दरोगा पर जंगली हाथी ने किया हमला

हरदोई में तेंदुए के हमले के बाद अब बिजनौर में जंगली हाथी ने वन दरोगा पर हमला कर दिया। बाइक पर ड्यूटी करने निकले दरोगा ने भागकर अपनी जान बचाई। दरोगा के भागने के बाद हाथी का गुस्सा उसकी बाइक पर निकल गया। हाथी ने हमला कर पैर से उसकी बाइक तोड़ डाली।

घटना की सूचना मिलने पर अन्य वन्य कर्मी वहां पहुंच गए। काफी देर मशक्कत के बाद उन्होंने हाथी को भगाया। इसके बाद घायल दरोगा को इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया जा सका। मामला बिजनौर के थाना रेहड़ के अमानगढ़ टाईगर वन रेंज का है।

झुंड से अलग होने पर गुस्साएं हाथी ने किया हमला
दरअसल, अमानगढ़ टाइगर रिजर्व रेंज में तैनात वन दरोगा अकबर अली गश्त करके मोटरसाइकिल से मकौनिया चौकी लौट रहे थें। इसी दौरान मकौनिया सेक्शन में अचानक एक जंगली हाथी ने वन दरोगा पर हमला कर दिया। हाथी अपने झुंड से अलग हो गया था। हमले में घायल दरोगा ने भागकर अपनी जान तो बचा ली, लेकिन गुस्साए हाथी ने उसकी बाइक को तोड़ डाला। घायल दरोगा ने घटना की सूचना मोबाइल फोन द्वारा रेंज स्टाफ को दी। मौके पर पहुंचे वनकर्मियो ने हाथी को भगाया और घायल को निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया।

अकेले पेट्रोलिंग न करने के निर्देश
इसपर रेंजर राकेश कुमार शर्मा ने बताया कि, पहले भी हाथी रेंज स्टाफ पर हमले का प्रयास कर चुके हैं। अपने झुंड से अलग होकर हाथी अकसर गुस्से में आकर हमलावर हो जाते हैं। इसलिए रेंज स्टाफ को अकेले पेट्रोलिंग न करने के निर्देश दिए गए हैं।

हमले में हो चुकी है युवक की मौत

27 जनवरी 2021 को जिले के अफजलगढ़ के गांव जामुनवाला में युवकों पर एक जंगली हाथी ने हमला कर दिया था। हमले में एक युवक की मौत हो गई थी। जबकि,अन्य युवकों ने भागकर किसी तरह अपनी जान बचाई। वहीं सूचना पर पुलिस व वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। घटना देर शाम की थी, जब गांव निवासी कुलदीप उर्फ चुन्नु अन्य लोगों सुनील, धीरज, रोहित, दीपक, विमल और दिलशाद के साथ गन्ने के खेत की रखवाली करने के लिए गए थे। इसी बीच अचानक एक जंगली हाथी ने युवकों पर हमला बोल दिया था। इस दौरान युवकों ने हाथी को भगाने का प्रयास किया, लेकिन हाथी लगातार फसलों को रौंदता रहा। हाथी ने हमला कर कुलदीप उर्फ चुन्नु को बुरी तरह जख्मी कर दिया। अन्य युवकों ने इधर-उधर भागकर अपनी जान बचाई। इसके बाद ग्रामीणों ने खेत में पत्ती एकत्र कर आग लगा दी थी। इसके बाद हाथी को वहां से खदेड़ा जा सका।

खबरें और भी हैं...