लालगंज में बारातियों को पीटा, रोड लाइट व डीजे तोड़ा:डीजे की आवाज को लेकर विवाद, पत्थराव में एक युवक घायल, पुलिस की मौजूदगी में विवाह संपन्न

लालगंज, मिर्जापुर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लालगंज के बामी गांव में आई बारात में शामिल लोगों की पिटाई और उत्पीड़न का मामला सामने आया है। शनिवार की शाम ज्ञानपुर निवासी छविनाथ के बेटे की बामी गांव में शादी थी और दुल्हन रविता पुत्री लालमनी लालगंज के बामी के हैं। जहां पर दोनों समुदाय के लोग रहते हैं। शिकायत है कि शादी में एक समुदाय के दबंग ने व्यवधान डाला और युवक की पिटाई कर दी। रोड लाइट व डीजे भी तोड़ दिए। पुलिस मौके पर पहुंच कर मामला शांत कराया।

छविनाथ शनिवार रात अपनी बारात लेकर बामी गांव पहुंचे तो रास्ते में मौजूद दबंगों ने बारातियों के ऊपर हमला कर दिया। दबंगों का आरोप था कि छविनाथ की बारात में बज रहे डीजे संगीत की आवाज बहुत ज्यादा थी, जो उन्हें नागवार गुजरी और रास्ता भी जाम किया गया था। रास्ता छोड़ने के लिए कहने पर बाराती नशे में गाली देने लगे। गुस्से में आकर दबंगों ने ना केवल बारातियों पर हमला बोल दिया, बल्कि उनके ऊपर पत्थरबाजी भी की। पत्थरबाजी से वासुदेव के बेटे को गंभीर रुप से चोट लग गई।

बारात बस्ती के पास पहुंची तो दबंगों ने रोड लाइट व डीजे तोड़ दिया। दबंगों की तरफ से हो रही पत्थरबाजी में कई बाराती घायल हो गए। पत्थरबाजी से बामी गांव निवासी वासुदेव के पुत्र किशोर गंभीर रुप से घायल हो गया। जैसे-तैसे गांव के संभ्रांत लोगों ने बारातियों के साथ दूल्हे को सही सलामत दुल्हन के घर तक पहुंचाया।

सूचना पर लहंगपुर पुलिस चौकी से हेड कांस्टेबिल नरवेश मिश्रा, अशोक यादव पुलिस बल के साथ पहुंच कर अपने उपस्थिति में विवाह रस्म को शुरु कराया। लालगंज थाना प्रभारी विजय कुमार चौरसिया ने बताया कि पीड़ित पक्ष से तहरीर मिलने के बाद इस पूरे मामले को लेकर दबंगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की जाएगी।