पड़ोसी जिले के दूषित पानी से मिर्जापुर वासी परेशान:भदोही की कंपनियों का केमिकल युक्त पानी फैला रहा बीमारी, DM को सौंपा गांव से पलायन का पत्र

मिर्जापुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पड़ोसी जिले के दूषित पानी से मिर्जापुर वासी परेशान। - Dainik Bhaskar
पड़ोसी जिले के दूषित पानी से मिर्जापुर वासी परेशान।

मिर्जापुर में पड़ोसी जनपद भदोही के खमरिया से दूषित केमिकल युक्त गंदे पानी के कारण फैल रही बीमारी और फसलों की बर्बादी झेल रहे कोन विकास खण्ड के करीब चार हजार की आबादी वाले जगा पट्टी और मनौवा के ग्रामीणों ने शुक्रवार को जिलाधिकारी को पत्र सौंप कर गांव से पलायन की चेतावनी दी है। इसके साथ ही विधानसभा चुनाव के बहिष्कार की भी घोषणा की है। वर्षों से समस्या का समाधान न होने और जिला प्रशासन का ध्यान आकर्षित करने के लिए कलेक्ट्रेट कार्यालय पर प्रदर्शन कर जिलाधिकारी को पत्र सौंपा।

50 एकड़ फसल बर्बाद हो रही

पत्र में कहा गया है कि वर्षों से कोन ब्लॉक के जगा पट्टी और मनौवा गांव में भदोही जनपद के खमरिया में स्थित कंपनियों का केमिकल युक्त पानी कोन विकास खण्ड के गांवों में फैलता रहा है। जिससे उठने वाली दुर्गन्ध से बीमारियां पांव पसार रही हैं। खेत में पानी लगने से करीब 50 एकड़ फसल हर वर्ष बर्बाद हो रही है। जिससे किसानों के सामने भूखमरी की नौबत आ पड़ी है।

गांव छोड़ने को होंगे मजबूर

इस समस्या को हम गांव वाले कई वर्षों से जिला प्रशासन व जन प्रतिनिधियों के समक्ष उठा रहे हैं, लेकिन हमारी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। समस्या की अनदेखी से ऊब कर गांव वालों ने हार कर यह फैसला लिया है कि अगर नाले को पक्का कर पानी की निकासी की समुचित व्यवस्था नहीं होती है तो गांव वाले अपने परिवार के स्वास्थ्य की सुरक्षा एवं भरण पोषण के लिए गांव व अपने घर को छोड़कर पलायन करने को विवश होंगे।

जान-माल की रक्षा की लगाई गुहार

आगामी विधानसभा चुनाव का पूर्ण रूप से बहिष्कार करने को बाध्य होंगे। जिसकी पूरी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी। जगा पट्टी के ग्राम प्रधान जटा शंकर के नेतृत्व में ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर परिवार की सुरक्षा और जान-माल की रक्षा की गुहार लगाई है।

खबरें और भी हैं...