• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Mirzapur
  • Ex MLA Got Upset Over Misbehavior Of BJP District President: Former MLA Of Mirzapur Joined SP Leaving BJP Along With Supporters, Left The Party After Being Hurt By The Interference Of The District President

भाजपा जिलाध्यक्ष की बदसलूकी से बिदक गए पूर्व विधायक:मिर्जापुर के पूर्व विधायक समर्थकों सहित भाजपा छोड़ सपा में शामिल हुए, जिलाध्यक्ष की दखलअंदाजी से आहत होकर छोड़ी पार्टी

मिर्जापुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व विधायक एवं जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद सिंह पटेल भी आज अपनी पुरानी पार्टी को भाजपा छोड़कर सपा में शामिल हो गए। - Dainik Bhaskar
पूर्व विधायक एवं जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद सिंह पटेल भी आज अपनी पुरानी पार्टी को भाजपा छोड़कर सपा में शामिल हो गए।

भाजपा में मची भगदड़ के बीच मिर्जापुर में राजगढ़ के पूर्व विधायक एवं जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद सिंह पटेल भी आज अपनी पुरानी पार्टी को भाजपा छोड़कर सपा में शामिल हो गए। इसके पीछे एक महिला के इशारे पर भाजपा जिलाध्यक्ष के द्वारा बैंक के सचिव को धमकी देना बताया जाता है।

जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन के अधिकार क्षेत्र में नियम के विपरीत दखलंदाजी और बदसलूकी ने मर्माहत कर दिया था। उन्होंने अपना दर्द कई लोगों से कहा हर तरफ से निराशा हाथ लगने पर भाजपा के वरिष्ठ कद्दावर नेता ने अंततः जिस पार्टी के लिए तन मन धन से समर्पित रहे, उसी को अलविदा कह कर सपा का झंडा थाम लिया।

कुछ महीने पहले महिला बनी थी भाजपा की सदस्य

बताया जाता है कि एक महिला को कुछ माह पूर्व भाजपा की सदस्यता ग्रहण कराया गया। कुछ दिन में ही भाजपा जिलाध्यक्ष उस पर इस कदर मेहरबान हुए कि उसे भाजपा महिला मोर्चा का जिलाध्यक्ष पद पर आसीन करा दिया। जबकि उस महिला और उसके पति समेत कई लोगों पर करीब 25 बीघा जमीन की जालसाजी का मुकदमा कायम हैं। एक साल से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी मड़िहान पुलिस ने अब तक सत्ता की नेत्री के प्रति कोई कार्रवाई न किया जाना लोगों में आश्चर्य का विषय बना है।

बैंक पर ताला बंद कर विरोध करने लगा

नेत्री के कैलहट स्थित एक मकान में किराए पर जिला सहकारी बैंक की कैलहट शाखा संचालित थी। उस मकान का अगला हिस्सा राज मार्ग के चौड़ीकरण में आने के बाद तोड़ दिया है। तब तक बैंक से किया गया करार भी समाप्त हो गया। इस बीच बैंक को गृह स्वामी ने अपने प्राइवेट आईटीआई भवन में स्थानांतरित कर दिया। करार खत्म होने पर बैंक ने दूसरी जगह स्थान देख शाखा स्थानांतरित करने के लिए सामान भेजना चाहा तो गृह स्वामी ने बैंक पर ताला बंद कर विरोध करने लगा।

अखिलेश यादव के सामने सदस्यता ग्रहण किया

मामले में कूदे भाजपा जिलाध्यक्ष बृज भूषण सिंह बैंक के लोगों से इस कदर बदसलूकी किया कि लोग अपमान का घूंट पीकर रह गए। अपने ही पार्टी के जिलाध्यक्ष की करनी और कथनी से जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन राजेन्द्र प्रसाद सिंह पटेल टूट गए। मकर संक्रांति पर्व पर राजेंद्र प्रसाद सिंह पटेल ने अपने दर्जनों समर्थकों के साथ सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के सामने सदस्यता ग्रहण किया।

इधर उनके समर्थकों ने भी भाजपा के प्रति अपना आक्रोश जताया। बैंक अब भी टूटे भवन में संचालित किया जाना पूर्व विधायक के दर्द -ए -दिल का हाल बयां कर रहा है। सिद्धांतवादी पार्टी में अभी कितनी बार भगदड़ मचेगा यह लोगों में चर्चा का विषय बना है।

खबरें और भी हैं...