5 लाख का गांजा जब्त, 2 तस्कर गिरफ्तार:उड़ीसा से लाकर करते थे सप्लाई

मिर्जापुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसपी संतोष कुमार ने 2 गांजा तस्करों का किया खुलासा, पुलिस को दिया ईनाम - Dainik Bhaskar
एसपी संतोष कुमार ने 2 गांजा तस्करों का किया खुलासा, पुलिस को दिया ईनाम

जनपद पुलिस ने कछवां थाना क्षेत्र से करीब 5 लाख की कीमत का 56 किलो गांजा और 1बाइक बरामद किया। तस्करी करने वाले गैंग के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस के हाथ लगा रवि उर्फ विक्की जायसवाल कटरा कोतवाली क्षेत्र के बथुआ का निवासी है। जबकि इन्द्र बहादुर मौर्या विंध्याचल थाना इलाके के भाऊ सिंह का पुरा गांव का रहने वाला है। अपने कार्यालय में शनिवार को एसपी सन्तोष कुमार मिश्र ने खुलासा किया। तस्करों का गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को एसपी ने 20 हजार रुपए के पुरस्कार की घोषणा की।

तस्करों पर है तिरछी नजर

जिले में मादक पदार्थ की तस्करी और बिक्री कर भावी पीढ़ी को नशे के जाल में फंसा रहे लोगों के ख़िलाफ़ पुलिस ने अभियान चला रखा है । किसी भी तरह से इस गंदे धंधे से शामिल लोगों की धर पकड़ में लगी है। धंधे में लिप्त लोगों को तलाश कर मुखबिरों के सहयोग से गिरफ्तार किया जा रहा है।

मुखबिर ने दी सटीक जानकारी

कछवां थाना पुलिस ने स्वाट और एसओजी टीम ने मुखबिर की सूचना पर कछवां थाना क्षेत्र से 2 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया। इनके कब्जे से 3 बैग में भरा 56 किलो गांजा बरामद किया । जिसकी अनुमानित कीमत 5 लाख रूपया है। इनके पास से 1 मोटर साइकिल बजाज डिस्कवर कब्जे में लिया गया । दोनों के खिलाफ़ कानूनी कार्रवाई करते हुए जेल भेज दिया गया।

उड़ीसा के गांजा की तस्करी

पुलिस के हाथ लगने पर अभियुक्तो ने बताया कि उड़ीसा व अन्य प्रान्त से विभिन्न साधनों से बोरे या बैग में गांजा रख कर लाते है । जिसे वह मिर्जापुर तथा आस पास के जनपदों में पहले से ही वार्ता और रेट तय करके व्यक्ति के पास माल पहुँचा देते है । जिसकी बिक्री वह अपने क्षेत्र में करता है ।

पहले से दर्ज़ हैं इंद्र पर 3 मुकदमे

पकड़े गए रवि उर्फ विक्की जायसवाल की पुलिस क्राइम हिस्ट्री खंगाल रही है। जबकि जबकि विंध्याचल क्षेत्र निवासी इन्द्र बहादुर मौर्या के खिलाफ़ 3 मामले कटरा कोतवाली में 2 और कछवां में 1 मामला पहले से दर्ज़ हैं। गांजा सप्लायर्स को गिरफ्तार और माल बरामद करने वाली पुलिस टीम में कछवां थाना प्रभारी राम स्वरूप वर्मा, स्वाट/संर्विलांस टीम प्रभारी राजेश चौबे एवं एसओजी प्रभारी सतेन्द्र कुमार यादव टीम के साथ लगे थे।