रामपुर में बैंक चोर गिरफ्तार:एसबीआई से लूटे थे 20 लाख रुपए, पुलिस ने एक चोर को पकड़ा;अंधेरे का फायदा उठाकर 3 हुए फरार

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रामपुर में पुलिस ने एसबीआई से 20 लाख की चोरी करने वाले चोर को चुराई हुई रकम के साथ किया गिरफ्तार। - Dainik Bhaskar
रामपुर में पुलिस ने एसबीआई से 20 लाख की चोरी करने वाले चोर को चुराई हुई रकम के साथ किया गिरफ्तार।

रामपुर में भारतीय स्टेट बैंक में दिनदहाड़े चोरी हो गई थी। कैशियर को एटीएम में रकम डालनी थी, उसके पीछे संदूक पर 20 लाख रुपए रखे हुए थे। तभी एक चोर पीछे के दरवाजे से आया उसने वह पैसे थैले में भरे और वहां से निकल गया। पुलिस सूचना मिलते ही हरकत में आ गई। मुखबिर की मदद से पुलिस ने चार में से एक चोर को गिरफ्तार कर लिया है। उसके पास से चुराए गए 20 लाख रुपए भी बरामद कर लिए गए है।

कैशियर की आंखों में धूल झोंककर चुराई रकम

मामला मिलक क्षेत्र के भारतीय स्टेट बैंक का है। जहां गुरुवार को कैशियर को बैंक के एटीएम में 20 लाख रुपए जमा करने थे। उसने रकम की गड्डियां संदूक के ऊपर रखकर कुछ काम कर रहा था। तभी एक चोर उसके पीछे लगे दरवाजे से अंदर घुस आया। उसने वह पूरी रकम अपने थैले में भरी और वहां से निकल गया। यह सबकुछ केवल तीन मिनट में हुआ। बैंक में ड्यूटी पर दो गार्ड मौजूद थे। तीसरा गार्ड कैश लेकर जाने वाले बैंक कर्मचारियों के साथ बैंक की दूसरी शाखा पर गया था।

पुलिस के हत्थे चढ़ा चोर

एसपी ने चोर को पकड़ने के लिए टीमें गठित की थी। पहले तो पुलिस को बैंककर्मियों पर ही शक था। 5 अगस्त की रात थाना मिलक व एसओजी की संयुक्त टीम ने कादरी भट्टे के सामने से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। उसके अन्य तीन साथी पुलिस को पास आता देख अंधेरे का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गये।

बरामद हुई चोरी की रकम

गिरफ्तार आरोपी का नाम अर्जुन है और वह राजगढ, मध्यप्रदेश का रहने वाला है। उसके अन्य तीन साथियों का नाम ऋषि, बाबू व अजब सिंह है। अर्जुन के पास से बैंक से चुराए 20 लाख रुपए और बिजनौर से चोरी किये गये करीब 50 हजार रुपये बरामद हुए। उसने पुलिस को बताया कि 22 जुलाई को करीब 11ः30 बजे ऋषि व बाबू बैंक के अन्दर पहुंच गए। 25 मिनट तक बैंक में आने-जाने वालों पर नजर रखी। 12 बजे कैशियर रूपयो को बाहर छोड़कर किसी काम से अन्दर चला गया। तभी ऋषि ने पैसे चुरा लिए और बैंक के बाहर वह अजब सिंह से मिला। चारों पैसे लेकर मुरादाबाद होते हुए मेरठ पहुंच गए। उसने बताया कि गैंग के 2 लोग अपराध करते हैं और 2 उनकी सपोर्ट में निगरानी करते हैं।

एसपी पुलिस टीम को देंगे इनाम

अर्जुन ने बताया कि उसका गैंग काफी बड़ा है। उसमें महिलाएं भी है। अलग-अलग जनपदों में यह लोग कई तरीकों से वारदात को अंजाम देते है। गिरोह के सदस्य को गिरफ्तार व घटना की शत प्रतिशत रकम बरामद करने वाली पुलिस टीम को एसपी ने 20 हजार रुपए की धनराशी बतौर इनाम देने को कहा हैं।

खबरें और भी हैं...