मुरादाबाद में पति के सामने पत्नी से गैंगरेप:घर में घुसे तीन नकाबपोश बदमाशों ने पति को बंधक बनाया; फिर पत्नी और 11 साल की बेटी के साथ की दरिंदगी

मुरादाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तीन में से एक ही आरोपी को पुलिस पकड़ सकी है, दो अभी भी पकड़ से बाहर हैं। - Dainik Bhaskar
तीन में से एक ही आरोपी को पुलिस पकड़ सकी है, दो अभी भी पकड़ से बाहर हैं।
  • बिजली कनेक्शन कटने की वजह से घर में था अंधेरा

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में पति के सामने पत्नी और 11 साल की मासूम बेटी के साथ गैंगरेप की दहला देने वाली वारदात सामने आई है। शनिवार की रात करीब 12 बजे ग्रामीण के घर में घुसे तीन नकाबपोश बदमाशों ने पति को गन प्वाइंट पर लेने के बाद गमछे से बांधकर डाल दिया। इसके बाद उसके सामने ही पत्नी और मासूम बेटी के साथ दरिंदगी की। पुलिस ने फिलहाल एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

घटना बिलारी थाना क्षेत्र के एक गांव में शनिवार रात करीब 12 बजे की है। पेशे से कार ड्राइवर व्यक्ति पिछले करीब पांच महीने से गांव में ही है। पीड़ित ने बताया कि घटना के समय वह अपने परिवार के साथ घर के बाहर छप्पर में सोया था। तभी तीन दबंग आए और उसकी कनपटी पर तमंचा लगाकर उसे दबोच लिया। इनमें से दो ने नकाब लगा रखा था। दबंग गोली मारने की धमकी देते हुए उसे घर के अंदर ले गए और वहां उसी के गमछे से उसके हाथ पैर बांधकर उसे डाल दिया। इसके बाद उसकी पत्नी और बेटी को भी बारी-बारी से धमका कर दबंग अंदर ले गए और उसकी नजरों के सामने की दोनों के साथ गैंगरेप किया।

बिजली वाले कनेक्शन काट गए, इसलिए बाहर सोता है परिवार
पीड़ित ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से कामधंधा बंद है। मेहनत मजदूरी करके अपनी पत्नी और छह बच्चों की दो वक्त की रोटी का इंतजाम किसी तरह कर पाता हूं। इसलिए वह दो महीने से बिजली का बिल जमा नहीं कर पाया था। जिसकी वजह से बिजली वाले उसका कनेक्शन काट गए थे। पीड़ित ने बताया कि बिजली नहीं होने की वजह से घर में अंधेरा होता है। गर्मी में पंखा भी नहीं चला पाता। इसलिए पूरा परिवार घर के बाहर पड़े छप्पर में ही सोता है।

डेढ़ घंटे तक दरिंदगी
ग्रामीण ने बताया कि उसे बंधक बनाने के बाद दबंग पहले उसकी पत्नी को कमरे में लाए और उसके साथ हैवानियत की। इसके बाद 11 साल की बेटी से दरिंदगी की। बेटी ने जब रोना गिड़िगिड़ाना शुरू किया तो दबंगों ने उसे बेरहमी से पीटा। बाद में तीनों में से एक दबंग मासूम बच्ची को उठाकर आंगन में ले गया। जहां बच्ची ने चीख पुकार की तो उसे धमकाया कि शोर मचाया तो गोली मार देंगे। 12 बजे ग्रामीण के घर में घुसे दबंग करीब डेढ़ घंटे तक मां - बेटी के साथ दरिंदगी करने के बाद रात करीब डेढ़ बजे धमकाते हुए घर से निकल गए।

दरोगा ने थाने से डांटकर भगाया
पीड़ित का कहना है कि घटना के अगले दिन रविवार की सुबह वह पत्नी और बेटी के साथ शिकायत दर्ज कराने बिलारी थाने पहुंचा था। लेकिन वहां मिले दरोगा नरेंद्र सिंह ने उसे डपटकर भगा दिया। दरोगा ने कहा कि तू झूठी कहानी गढ़ रहा है। बार-बार तेरे ही घर में क्यों लोग घुसते हैं। इसके बाद ग्रामीण हताश होकर घर लौट आया। पीड़ित का कहना है कि दरोगा ने उसके साथ बदसलूकी भी की।

25 अगस्त 2020 में भी हुई थी घटना, नहीं लिखी रिपोर्ट
पीडि़त का कहना है कि 25 अगस्त 2020 में भी इन्हीं तीन आरोपियों में से दो उसके घर में घुसे थे। उन दिनों वह दिल्ली में एक व्यापारी की कार चलाता था। इसलिए घर पर नहीं था। पीड़ित का कहना है कि मौजूदा आरोपियों में से दो गांव के फैजान और स्यौंडारा निवासी राजा ने उसकी पत्नी के साथ रेप किया था। तब उसकी पत्नी ने थाने में शिकायत करने गई थी। लेकिन पुलिस ने उसे भगा दिया था। इससे दबंगों का दुस्साहस बढ़ा और वह आए दिन उसके घर में घुसने लगे। ऐसे में उसे मजबूरन नौकरी छोड़कर गांव लौटना पड़ा ताकि अपने परिवार की हिफाजत कर सके। ताजा घटना में भी राजा और फैजान का नाम है।

एक आरोपी गिरफ्तार, बाकी दो की तलाश: सीओ
बिलारी सर्किल के सीओ देश दीपक का कहना है कि घटना शनिवार / रविवार की रात की है। तीन दबंगों ने घर मे घुसकर महिला और उसकी 11 वर्ष की बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था। पीड़ित ने अगले दिन 12 बजे तहरीर दी। पुलिस ने सोमवार रात को मुकदमा दर्ज कर सोमवार को इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी राजा बिलारी क्षेत्र के ही स्यौंडारा गांव का रहने वाला है। उसकी रिश्तेदारी पीड़िता के गांव में है। वह वहां अक्सर आया जाया करता था। तभी से उसकी नजर इस परिवार पर थी। पीड़ित ने गांव के ही फैजान और एक अन्य की शिनाख्त कर नाम पुलिस को बताए हैं।

खबरें और भी हैं...