मुरादाबाद में कोरोना के 80 नए केस मिले:अस्पतालों के लिए अलर्ट जारी, एक्टिव मामलों की संख्या 181 हुई

मुरादाबादएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल में कोविड की थर्ड वेव से निपटने के लिए रिहर्सल किया गया। - Dainik Bhaskar
जिला अस्पताल में कोविड की थर्ड वेव से निपटने के लिए रिहर्सल किया गया।

मुरादाबाद में कोरोना के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं। मंगलवार को 80 नए केस मिले हैं। इनमें 3 रिपीट केस को छोड़ दें तो मंगलवार को शहर में कोविड के 77 नए मामले आए हैं। एक्टिव केस की संख्या अब 181 हो गई है। अमित शाह की रैली वाले दिन तक मुरादाबाद में 19 कोविड पॉजिटिव थे। इस नजरिए से देखें तो शाह की रैली के तुरंत बाद पिछले 2 दिन में कोविड पॉजिटिव मरीजों की तादाद 9 गुना से भी अधिक हो गई है। इसके बावजूद नेताओं की रैलियों और सभाओं पर न तो प्रशासन की ओर से रोक लगी है और न ही इन सभाओं में कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने की जहमत सरकारी तंत्र उठा रहा है।

निजी अस्पतालों को भी अलर्ट जारी

स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोविड की थर्ड वेव के मद्देनजर निजी अस्पतालों को भी अलर्ट किया गया है। इन अस्पतालों को सभी तैयारियां मुकम्मल रखने के निर्देश दिए गए हैें। जरूरत पड़ने पर स्वास्थ्य विभाग इन अस्पतालों का अधिग्रहण करके इनका संचालन अपने हाथों में लेगा।

बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू
बच्चों का वैक्सीनेशन 3 जनवरी से शुरू हाे चुका है। स्वास्थ्य विभाग की अपील है कि लोग अपने 15 से 18 साल की अयुवर्ग के बच्चों का वैक्सीनेशन कराएं। इसके लिए जल्द ही स्कूलों में भी वैक्सीनेशन कैंप लगाए जाएंगे। आधार कार्ड नहीं होने पर बच्चों को स्कूल के आई कार्ड से भी वैक्सीन लगाई जाएगी।

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने किया रिहर्सल
लगातार बढ़ते कोविड मरीजों से स्वास्थ्य विभाग भी सकते में है। थर्ड वेव से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली है। मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिला अस्पताल में थर्ड वेव के मद्देनजर तैयारियों का रिहर्सल किया गया। CMO डॉ. मिलिंद गर्ग ने लोगों से अपील की है कि वह कोविड प्रोटोकॉल का पूरी सख्ती के साथ पालन करें। किसी भी सूरत में बिना मास्क के घर से न निकलें और सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल जरूर रखें।

डींगरपुर में हुई ओवैसी की जनसभा में लोगों के चेहरों पर मास्क नहीं दिखा।
डींगरपुर में हुई ओवैसी की जनसभा में लोगों के चेहरों पर मास्क नहीं दिखा।

ओवैसी की सभा में किसी के मुंह पर मास्क नहीं

मंगलवार को भी जिले में असदुद्दीन ओवैसी की जनसभा थी। इसमें मंच के सामने बैठी भीड़ में किसी के मुंह पर मास्क नजर नहीं आया। राजनीतिक सभाओं में सोशल डिस्टेंसिंग की बात करना ही बेमानी है। ओवैसी खुद तो मंच पर मास्क लगाए बैठे रहे लेकिन उन्हें सामने बैठी जनता की फिक्र नहीं हुई। इसी तरह मंगलवार को दिन में कलेक्ट्रेट पर हुए कांग्रेस के प्रदर्शन में भी लोगों के चेहरों पर मास्क नजर नहीं आया।