• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Moradabad
  • Leopard Trapped In A Cage In Amroha: A Pair Of Leopards Was Roaming In Village For One And A Half Months, 10 Days Ago Died Of A Current; The Second Imprisoned In The Cage

अमरोहा में पिंजरे में फंसा तेंदुआ, VIDEO में देखें:डेढ़ महीने से गांव में घूम रहा था तेंदुए का जोड़ा, 10 दिन पहले एक की करंट से मौत; दूसरा पकड़ा गया

अमरोहा/ मुरादाबाद8 महीने पहले
सुनपुरा के जंगल में लगाए गए पिंजरे में फंस गया तेंदुआ, बरेली भेजा गया।

अमरोहा में करीब डेढ़ महीने से लोगों की परेशानी का सबब बना तेंदुआ आखिरकार पिंजरे में फंस गया। एक दिन पहले ही जंगल में वन विभाग टीम ने पिंजरा लगाया था। मौके पर पहुंचे डीएफओ देवमणि मिश्रा ने बताया कि अब तेंदुए को बरेली भेजे जाने की तैयारी की जा रही है।

बताया जा रहा है कि करीब डेढ़ महीने से तेंदुए का एक जोड़ा जिले के अलग-अलग हिस्सों में देखा गया था। तेंदुए ने दो ग्रामीणों को हमला कर घायल भी कर दिया था। इससे ग्रामीणों में खौफ था। हालांकि, करंट से जोड़े में से एक तेंदुए की मौत हो चुकी है।

10 दिन पहले करंट से मर गया था एक तेंदुआ
मामला देहात थाना क्षेत्र के गांव सुनपुरा के जंगल का है। यहां गांव में तेंदुआ दिखने के बाद शुक्रवार शाम वन विभाग ने पिंजरा लगाया था। रामनगर और सुनपुरा गांव के बीच जंगल में लगाए गए पिंजरे में शनिवार तड़के तेंदुआ फंस गया। तेंदुए के फंसने की सूचना पर ग्रामीणों की भीड़ मौके पर जुट गई।

वन विभाग की टीम ने ट्रैक्टर की मदद से पिंजरे को यहां से हटाया है। वहीं, तेंदुए के जोड़े में से एक तेंदुए की करीब 10 दिन पहले करंट से मौत हो गई थी। उसका शव बिजली के तारों के नीचे पड़ा मिला था।

अमरोहा में पिंजरे में फंसा तेंदुआ।
अमरोहा में पिंजरे में फंसा तेंदुआ।

एक महीने से खौफजदा थे ग्रामीण
तेंदुए का जोड़ा दिखने के बाद से ग्रामीण पिछले 1 महीने से खौफजदा थे। तेंदुए के डर से ग्रामीण खेतों पर जाने से बच रहे थे। तेंदुआ जिले में अलग - अलग हिस्सों में नजर आ रहा था। इससे ग्रामीणों को डर था कि वह कहीं भी खेतों में छुपा हो सकता है। कई बार तेंदुआ सड़क पर भी आ जाता था। इंस्पेक्टर अमरोहा देहात ने बताया कि वन विभाग की टीम तेंदुए को ले गई है।

तेंदुआ फंसने के बाद मौके पर जुटी ग्रामीणों की भीड़।
तेंदुआ फंसने के बाद मौके पर जुटी ग्रामीणों की भीड़।
ट्रैक्टर की मदद से पिंजरे को ले गई वन विभाग की टीम।
ट्रैक्टर की मदद से पिंजरे को ले गई वन विभाग की टीम।
खबरें और भी हैं...