• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Moradabad
  • Among Those Who Sold Houses To Muslims, The Wife Of The City System Chief Of RSS Was Also Included, 81 Hindu Families Wrote On The Houses No Migration, Now There Will Be Power

हिंदू परिवारों ने पलायन के पोस्टर उतारे, पराक्रम के लगाए:मुस्लिम को मकान बेचने वालों में RSS के नगर व्यवस्था प्रमुख की पत्नी भी शामिल, 81 हिंदू परिवारों ने घरों पर लिखा- पलायन नहीं अब पराक्रम होगा

मुरादाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुरादाबाद की एक कालोनी में 81 हिंदू घरों पर लगे पलायन के पोस्टर उतर गए हैं। अब यहां पराक्रम के पोस्टर लगाए गए हैं। - Dainik Bhaskar
मुरादाबाद की एक कालोनी में 81 हिंदू घरों पर लगे पलायन के पोस्टर उतर गए हैं। अब यहां पराक्रम के पोस्टर लगाए गए हैं।

मुरादाबाद की लाजपत नगर शिव मंदिर कालोनी में 81 हिंदू परिवारों के घरों पर चस्पा सामूहिक पलायन के पोस्टरों का सच धीरे - धीरे बेनकाब हो रहा है। एक तरफ RSS के अनुषांगिक संगठन और BJP नेता हिंदू कालोनी में मुस्लिमों के घर खरीदने पर आंदोलित हैं। वहीं दूसरी तरफ खुलासा हुआ है कि मुस्लिमों को ये मकान RSS नेताओं ने ही बेचे थे।

RSS के विभाग व्यवस्था प्रमुख संदीप सिंघल के बाद अब RSS (राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ) के नगर व्यवस्था प्रमुख (कटघर) विकास मोहन अग्रवाल का नाम भी इसमें जुड़ा है। मुस्लिम को दूसरा मकान बेचने वाली नीलम अग्रवाल नगर व्यवस्था प्रमुख विकास मोहन अग्रवाल की पत्नी हैं। जबकि एक मकान विभाग व्यवस्था प्रमुख संदीप सिंघल ने मुस्लिम को बेचा था।

दैनिक भास्कर के इस खुलासे के बाद से मकान बेचने वाले RSS नेता बैकफुट पर हैं। रजिस्ट्री वापसी की भी बात होने लगी हैं। इस बीच कालोनी के लोगों ने अपने घरों से पलायन के पोस्टर उतार दिए हैं। इसके स्थान पर कालोनी के लोगों ने घरों पर लिखा है- 'पलायन नहीं अब पराक्रम होगा'।

मुरादाबाद की लाजपत नगर कालोनी में लोगों ने पलायन के पोस्टर हटा दिए हैं।
मुरादाबाद की लाजपत नगर कालोनी में लोगों ने पलायन के पोस्टर हटा दिए हैं।

रजिस्ट्री वापस लेंगे नहीं तो सामाजिक बहिष्कार होगा: विवेक

मुरादाबाद के 81 हिंदू परिवारों ने पलायन के पोस्टर उतारकर पराक्रम के पोस्टर लगाए हैं।
मुरादाबाद के 81 हिंदू परिवारों ने पलायन के पोस्टर उतारकर पराक्रम के पोस्टर लगाए हैं।

कालोनी में पहले दिन से ही प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे पूर्व पार्षद विवेक शर्मा ने कहा कि दूसरों को हिंदुत्व का पाठ पढ़ाने वाले RSS नेताओं का चेहरा बेनकाब हो गया है। उन्हाेंने कहा कि ये लोग या तो अपनी रजिस्ट्री वापस कराएंगे नहीं तो इनका सामाजिक बहिष्कार किया जाएगा। विवेक ने कहा कि मुस्लिम को मकान बेचने वालों में से एक ज्ञान प्रकाश रस्तोगी अपनी रजिस्ट्री वापस कराने को तैयार हो गए हैं। उन्होंने मुस्लिम खरीददार से भी बात कर ली है। वह अपने मकान को वापस अपने नाम करा लेंगे। विवेक के मुताबिक RSS के नगर व्यवस्था प्रमुख विकास मोहन अग्रवाल भी किसी मुस्लिम से मकान लेकर हिंदू के नाम कराएंगे। इसके लिए दोनों पक्षों में बात हो गई है। बाकी मकानों को भी वापस कराया जाएगा। नहीं तो मकान बेचने वालों का बहिष्कार होगा।

मकान वापसी अब मेरे हाथ में नहीं: अग्रवाल
RSS के नगर व्यवस्था प्रमुख ने मकान वापसी का समझौता होने से इंकार किया है। उनका कहना है कि अभी कालोनी के लोगों ने उनसे इस बारे में संपर्क नहीं किया है। उनका कहना है कि वह मकान बेच चुके हैं। अब मकान वापस करना या किसी और के नाम रजिस्ट्री करना मकान खरीद चुके व्यक्ति का अधिकार है।

विहिप ने छिड़का था कालोनी में गंगाजल

मुरादाबाद में 81 हिंदू परिवारों ने पलायन के पोस्टर हटाकर अब पराक्रम के पोस्टर लगाए हैं।
मुरादाबाद में 81 हिंदू परिवारों ने पलायन के पोस्टर हटाकर अब पराक्रम के पोस्टर लगाए हैं।

विहिप और बजरंग दल ने गुरुवार को पूरी कालोनी में गंगाजल छिड़कते हुए शुद्धिकरण यात्रा निकाली थी। जबिक 2 अगस्त को कालोनी पहुंचे BJP विधायक ने कहा था कि मुसलमान साजिश के तहत हिंदू कालोनियों में ऊंचे दाम पर मकान खरीद हैं। उन्होंने कहा था कि वह मकान खरीदने वाले मुसलमानो को कालोनी में रहने नहीं देंगे। हिंदूवादी संगठन इस मामले को मुद्दा बना रहे हैं।

मुसलमानों के मकान खरीद लेने पर दो दिन पहले विहिप और बजरंग दल ने यहां गंगाजल छिड़का था।
मुसलमानों के मकान खरीद लेने पर दो दिन पहले विहिप और बजरंग दल ने यहां गंगाजल छिड़का था।

क्या है पूरा मामला

मुरादाबाद के कटघर थाना क्षेत्र में लाजपत नगर शिव मंदिर कालोनी हिंदू बहुल है। यहां सभी मुस्लिम परिवार रहते हैं। पिछले दिनों कालोनी के तीन मकान मुसलमानों ने खरीद लिए। इसे लेकर कालोनी के लोगों ने अपने घरों पर सामूहिक पलायन के पोस्टर लगा दिए थे। कालोनीवासियों की मांग है कि प्रशासन मुसलमानों को कालोनी से हटाए। उन्होंने CM योगी से भी इस बारे में कानून बनाने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...