शांति भंग में जमानत चाहिए तो 5 पौध लगाइए:अमरोहा के SDM मांगेराम की अनोखी पहल, अभियुक्तों से 5-5 पौधे लगाने के लिए भरवाते हैं बांड, जमानती को भी 1 पौधे लगाना होता है

मुरादाबाद4 महीने पहले

मुरादाबाद कमिश्नरी के एक PCS अफसर मांगेराम चौहान अपनी एक अनोखी मुहिम के लिए चर्चा में हैं। वे वर्तमान में अमरोहा जिले की धनौरा तहसील के SDM हैं। उन्होंने पर्यावरण संरक्षण के लिए जमानत के बदले शांति भंग के अभियुक्तों से 5-5 पौधे लगाना अनिवार्य कर दिया है। इस तरह शांति भंग में चालान के बाद जो अभियुक्त जमानत के लिए मांगेराम की कोर्ट में पहुंचते हैं, उन्हें मुचलके के साथ-साथ पांच पेड़ लगाने के लिए शपथ पत्र देना होता है। जमानत लेने वाले शख्स को एक पौध लगाना होता है। अगली तारीख पर पौधरोपण की फोटो भी हाजिर करनी होती है।

दरअसल, पुलिस लड़ाई-झगड़े के जिन छोटे मामलों में अभियुक्तों का चालान शांति भंग की आशंका में CRPC की धारा 107/ 116/151 में करती है, उन्हें जमानत के लिए SDM कोर्ट में पेश किया जाता है। इन अभियुक्तों को मुचलका पाबंद करके छोड़ दिया जाता है। लेकिन धनौरा के SDM मांगेराम चौहान ने इसे पर्यावरण संरक्षण से जोड़ दिया है।

मुचलके साथ भरना होगा हरित बंध पत्र

PCS अफसर मांगेराम चौहान की धनौरा तहसील में इसी साल 28 जनवरी को पोस्टिंग हुई थी। इससे पहले वे नौगांवा सादात के SDM थे। वे हर एक अभियुक्त से हरित बंध पत्र भरवाते हैं। इसकी शर्त है कि अभियुक्त जमानत पर छूटने के बाद अपने स्वयं के खर्च पर 5 फलदार /छायादार पौधे लगाएगा। जबिक उसके दोनों जमानती एक-एक पौधे अपने खर्च पर लगाएंगे। अपनी इस अनोखी पहल के जरिए इस PCS अधिकारी ने तहसील क्षेत्र में 10 हजार पौधे लगवा दिए हैं।

पर्यावरण संरक्षण का यह अनूठा मॉडल अमरोहा के चौहान मॉडल के नाम से पहचाना जाने लगा है।
पर्यावरण संरक्षण का यह अनूठा मॉडल अमरोहा के चौहान मॉडल के नाम से पहचाना जाने लगा है।

दंड प्रक्रिया में शामिल करने की मांग

धरती को ग्लोबल वार्मिंग से बचाने के लिए SDM मांगेराम चौहान ने वृक्षारोपण को दंड प्रक्रिया में जोड़ने की मांग की है। उन्होंने शासन को पत्र लिखने के साथ ही सर्वोच्च न्यायालय के अतिरिक्त सॉलिसीटर जनरल को भी इस बाबत पत्र भेजा है। मांगेराम चौहान का कहना है कि यदि प्रदेश के सभी SDM शांति भंग में जमानत देते समय वृक्षारोण की शर्त को शामिल कर लें तो प्रदेश में पर्यावरण को काफी हद तक संरक्षित किया जा सकता है।
चौहान मॉडल के नाम से फेमस होने लगा अभियान

हरित बंध पत्र में 5 पौधे लगाने की शर्त है। अभियुक्त को यह पौधे अपनी भूमि पर स्वयं के खर्च से लगाने होंगे। लेकिन यदि किसी व्यक्ति के पास खुद की जमीन नहीं है, तो वह सरकारी भूमि या सड़कों के किनारे पौधारोण कर सकता है। इन पौधों की देखभाल का जिम्मा भी पौधा लगाने वाले का ही होगा। SDM मांगेराम चौहान कहते हैं कि धरती का तापमान करने के उद्देश्य से हरित बंध पत्र योजना को लागू किया गया है। इसके तहत शांति भंग की आशंका और CRPC 107/116 में चालान होकर आने वाले अभियुक्तों को 5 पौधे और उनके 2 जमानती को एक-एक पौधा स्वयं के खर्च पर लगाना अनिवार्य है। अगली तारीख पर पौधरोपण की फोटो प्रस्तुत करनी होती है।

खबरें और भी हैं...