पलायन के पोस्टर के बाद विहिप नेताओं ने छिड़का गंगाजल:मुरादाबाद की कॉलोनी में 2 घर मुस्लिमों ने खरीदे, 81 हिंदू परिवारों ने लगाए सामूहिक पलायन के पोस्टर; भाजपा विधायक की धमकी- नहीं बसने देंगे

मुरादाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मुरादाबाद की एक कालोनी में 81 हिंदू परिवारों के अपने घरों पर पलायन के पोस्टर लगाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। गुरुवार को विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और बजरंग दल के 20 से ज्यादा कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए पहुंचे। इन दौरान विहिप नेताओं ने जोर-जोर से मंत्र पढ़ते हुए पूरी कालोनी में गंगाजल छिड़का। इनका कहना था कि अब कालोनी पवित्र हो गई है और अब यहां से किसी को पलायन की जरूरत नहीं होगी।

विहिप के मंडल अध्यक्ष डॉ. राजकमल का कहना है कि अब पलायन नहीं पराक्रम होगा। बता दें, भाजपा विधायक रितेश गुप्ता पहले ही ऐलान कर चुके हैं कि मकान खरीदने वाले दूसरे समुदाय के लोगों को कालोनी में नहीं रहने देंगे।

विहिप कार्यकर्ताओं ने कालोनी की परिक्रमा कर गंगाजल छिड़का।
विहिप कार्यकर्ताओं ने कालोनी की परिक्रमा कर गंगाजल छिड़का।

क्या है ये पूरा मामला?
पूरा मामला कटघर थाना क्षेत्र की लाजपत नगर शिव मंदिर कालोनी का हे। यहां करीब एक सप्ताह पहले 81 हिंदू परिवारों ने घरों पर सामूहिक पलायन के पोस्टर लगा दिए थे। यहां रहने वाली पूनम बंसल और आशा देवी समेत अन्य महिलाओं का कहना था कि कॉलोनी में घर खरीदने वाले दूसरे समुदाय के लोगों को हटाया जाए।

दरअसल, कॉलोनी के दो मकान हाल ही में दूसरे समुदाय के लोगों ने खरीद लिए हैं। इन्हें हिंदू परिवारों ने ही बेचा है। कालोनी के लोगों की इच्छा है कि कालोनी में दूसरे समुदाय के लोग नहीं बसें। उन्होंने CM योगी आदित्यनाथ से यहां तक मांग कर दी है कि सरकार इस तरह का कोई कानून बनाए। कॉलोनी में 'यह मकान बिकाऊ है' के पोस्टर लगने के बाद से ही यहां का माहौल गर्म है।

दूसरे समुदाय के खरीददारों को कालोनी से हटाना चाहते हैं कालोनीवासी।
दूसरे समुदाय के खरीददारों को कालोनी से हटाना चाहते हैं कालोनीवासी।

3 दिन पहले DM-SSP पहुंचे थे कालोनी
मामला सुर्खियों में आने के बाद DM शैलेंद्र कुमार सिंह और SSP पवन कुमार कालोनी का दौरा कर चुके हैं। दोनों अधिकारियों ने स्थानीय लोगों से बात करके उनकी समस्याओं को सुलझाने का आश्वासन भी दिया है। DM पहले ही कह चुके हैं कि यह कुछ लोगों के आपसी विवाद का मामला है और पलायन जैसी कोई बात नहीं है। DM का कहना है कि कोई अपना मकान किसे बेचता है, यह उसका व्यक्तिगत अधिकार है। इस मामले में प्रशासन कुछ नहीं कर सकता।

तीन दिन पहले DM-SSP पहुंचे थे कालोनी।
तीन दिन पहले DM-SSP पहुंचे थे कालोनी।

BJP विधायक बोले- खरीदने वाले को रहने नहीं देंगे
बता दें, बीती 2 अगस्त को कालोनी में पहुंचे शहर विधायक रितेश गुप्ता ने ऐलान किया था कि वह कालोनी वालों के साथ है। उन्होंने दो टूक कहा था कि हिंदू कालोनी में मकान खरीदने वाले दूसरे समुदाय के लोगों को किसी भी सूरत में रहने नहीं देंगे। विधायक ने कहा था कि मुरादाबाद में ऐसा साजिश के तहत हो रहा है। हिंदू कालोनियों में ऊंचे दामों पर दूसरे समुदाय के लोगों द्वारा मकान खरीदे जा रहे हैं।

BJP विधायक रितेश गुप्ता ऐलान कर चुके हैं कि दूसरे समुदाय के खरीददार को कालोनी में नहीं रहने देंगे।
BJP विधायक रितेश गुप्ता ऐलान कर चुके हैं कि दूसरे समुदाय के खरीददार को कालोनी में नहीं रहने देंगे।

सोशल मीडिया पर आते ही गरमाया मामला
प्रशासन ने कालोनी में हो रहे पूरे घटनाक्रम पर नजरें टिका रखी हैं। DM कह चुके हैं कि कुछ लोग सोशल मीडिया पर इस मामले को तूल देने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे लोगों को चिन्हित करके उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। LIU (लोकल इंटेलिजेंस यूनिट) को भी पूरे इलाके में विशेष रूप से निगरानी करने के निर्देश हैं।

खबरें और भी हैं...